संवाद सहयोगी, सुनाम ऊधम ¨सह वाला (संगरूर) : पिछले कई माह से अपनी सुस्त कार्यशैली को लेकर सवालों में घिरे स्थानीय तहसील परिसर में स्थापित फर्द केंद्र का जायजा लेने के लिए शुक्रवार को आम आदमी पार्टी के नेता व विधायक अमन अरोड़ा अपनी टीम के साथ पहुंचे। विधायक अरोड़ा ने फर्द लेने के लिए उपस्थित किसानों व अन्य लोगों से बातचीत की और उनकी मुश्किलें सुनीं। इस दौरान उन्होंने फर्द केंद्र के मुलाजिमों से बातचीत करके काम करने की प्रक्रिया की जानकारी हासिल की।

पत्रकारों से बातचीत करते विधायक अरोडा ने कहा कि कैप्टन सरकार को जनता के हितों से कोई सरोकार नहीं है। सरकार की ओर से जरूरी कार्य भी कंपनियों को ठेके पर दे दिए गए हैं। बाद में इन कार्यों की समीक्षा भी नहीं की जा रही है, जबकि परेशान जनता दर दर की ठोकरें खा रही है। फर्द केंद्रों में सुविधाओं की कमी है। जितने लोग काम के सिलसिले में आ रहे हैं उतना काम करने की क्षमता ही इन केंद्रों की नहीं है। सरकार की ओर से ड्रामा किया जा रहा है और लोग दिक्कतों का सामना कर रहे हैं। सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ तक लोगों को नसीब नहीं हो रहा है। बुजुर्ग व विधवा पेंशन, शगुन, लाइसेंस समेत अन्य कार्य लंबित पडे हैं। सरकार लोगों को अंधेरे में रखकर उनका शोषण कर रही है। तहसील परिसर में उगे सुखे के पौधों पर उठाए सवाल

विधायक अरोड़ा ने कहा कि तहसील परिसर में सुल्फे के पौधे उगे हुए हैं और इन पौधों को कई लोग नशे के तौर पर उपयोग कर रहे हैं। उक्त पौधे कैप्टन सरकार की नशा विरोधी मुहिम का मजाक उड़ाते प्रतीत हो रहे हैं। उन्होंने जनता से आह्वान किया कि अपने अधिकारों की पूर्ति के लिए एकजुट हों।

By Jagran