जागरण संवाददाता, संगरूर : शेरपुर में भारतीय किसान यूनियन एकता डकौंदा द्वारा शुक्रवार को एक अकादमी मालिक द्वारा विदेश भेजने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी करने के मामले को लेकर थाना शेरपुर के घेराव कर प्रशासन व अकादमी मालिक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

धरने को संबोधित करते हुए यूनियन के ब्लॉक नेता कर्मजीत ¨सह छन्ना, जिला महासचिव सुख¨वदर ¨सह, सरपंच सुख¨मदर ¨सह, पूर्व सरपंच अवतार ¨सह ने कहा कि शेरपुर के एक अकादमी मालिक द्वारा बलदेव ¨सह पुत्र जीत ¨सह फूलेवाल ब¨ठडा से कनाडा भेजने के नाम पर 20 लाख रुपये ठगी मारी है। अकादमी मालिक ने पहली नवंबर 2017 को पीड़ित बलदेव ¨सह पुत्र जीत ¨सह को नकली वीजे की कापी भेजकर पहले मुंबई बुलाया। बाद में वहां से बंगलौर बुलाकर पिस्तौल की नोक पर डरा धमकाकर उसके पास से 20 लाख रुपये छीन व शेरपुर पहुंचने के लिए कैनेडा पहुंचने का झूठ बुलाया गया। इस पर पीड़ित परिवार द्वारा अकादमी मालिक के घर पैसे पहुंचते कर दिए गए। जब बलदेव ¨सह को अपने आप को ठगा महसूस हुआ व जान को खतरा लगा तो वह बंगलौर से अपने घर भाग आया। उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर उनकी द्वारा थाना शेरपुर में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। अकादमी मालिक ने पहले दो ला रुपये प्रति माह देने का वादा किया, जिसमें से उसने केवल 30 हजार रुपये ही दिए बाद में अकादमी मालिक ने पैसे की जगह अपने मकान का इकरारनामा बलदेव ¨सह पुत्र जीत ¨सह निवासी फूलेवाल के नाम कर दिया था, ¨कतु अब अकादमी मालिक अपने घर का कब्जा नहीं दे रहा व जिसके रोष में थाना शेरपुर समक्ष धरना दिया गया है। पुलिस के आश्वासन के बाद धरना समाप्त किया गया। पुलिस सीेधे नहीं दिला सकती कब्जा : थाना प्रभारी

इस मामले संबंधी थाना शेरपुर के प्रमुख से बात की तो उन्होंने कहा कि पुलिस सीधे तौर पर मकान का कब्जा नहीं दिला सकती, बल्कि कानूनी प्रक्रिया द्वारा ही मामले का हल किया जा सकता है।

By Jagran