जागरण संवाददाता, संगरूर :

भवानीगढ़ के हेरीटेज पब्लिक स्कूल में आठवीं कक्षा में पढ़ता बच्चा एकमवीर ¨सह के अचानक घर से लापता होने के बाद भवानीगढ़ पुलिस ने बच्चे के मि¨सग चाइल्ड हेल्पलाइन की मदद से शनिवार को दिल्ली से बरामद कर लिया। बच्चे को सुरक्षित संगरूर लाया गया, जहां शुक्रवार को डीएसपी संदीप वडेरा ने बच्चे को उसके परिवार को सुपूर्द कर दिया गया। डीएसपी ने कहा कि बच्चे की तलाश में चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 का अहम योगदान रहा है।

इस संबंधी जानकारी देते हुए डीएसपी संगरूर संदीप वडेरा ने बताया कि भवानीगढ़ निवासी वीरइंद्र ¨सह आस्ट्रा का 13 वर्षीय पुत्र एकमवीर ¨सह घर वालों से हुए मनमुटाव के कारण 16 मई की शाम को घर से अचानक कहीं चला गया। परिजनों ने काफी तलाश की, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल पाया, जिसके बाद परिवार ने पुलिस को सूचना दी। एसएचओ भवानीगढ़ चरणजीव लांबा ने तुरंत बच्चे की तस्वीर व अन्य जानकारी चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 पर अप-लोड की। इस हेल्पलाइन की मदद से बच्चे को दिल्ली के रेलवे स्टेशन पर से बरामद कर लिया गया। पुलिस तुरंत दिल्ली पहुंची व बच्चे को सुरक्षित वापस लाया गया। बच्चे ने पुलिस को बताया कि वह परिवार से नाराज था। इस कारण वह घर से अपने द्वारा जमा किए 120 रुपये की राशि लेकर बस पर पटियाला चला गया। पटियाला से रेलगाड़ी की मदद से वह अमृतसर पहुंचा व श्री हरमंदिर साहिब में माथा टेका। यहां से वह वापस घर को आने के लिए रेलवे स्टेशन पर पहुंच गया व एक रेलगाड़ी में बैठ गया। वह पटियाला वापस आने के लिए रेलगाडी में बैठना चाहता था, लेकिन गलती से पटियाला की बजाए दिल्ली को जाती रेलगाड़ी में बैठ गया, जिस कारण दिल्ली के स्टेशन पर पहुंच गया। दिल्ली रेलवे पुलिस ने चाइल्ड हैल्पलाइन पर मिली जानकारी के आधार पर एकमवीर को रेलवे स्टेशन पर सुरक्षित बरामद कर लिया व भवानीगढ़ पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस ने आपस में संपर्क करके एकमवीर को भवानीगढ़ लाया गया। डीएसपी संदीप वडेरा ने शुक्रवार को बच्चे के पिता वीरइंद्र ¨सह सहित अन्य रिश्तेदारों की मौजूदगी में बच्चा परिवार के हवाले कर दिया।

Posted By: Jagran