जागरण संवाददाता, संगरूर :

पीएसईबी इंप्लाईज एसोसिएशन रीजन संगरूर के समूह इंजीनियरों की बैठक हुई। बैठक में विजिलेंस विभाग पटियाला द्वारा इंजी. द¨वदर कुमार एसडीओ देहाती पातड़ां के खिलाफ दर्ज की एफआईआर को झूठी व बेबुनियाद करार देते हुए इसका विरोध किया गया। सभी सदस्य इंजीनियर्स ने इस झूठे मामले का डटकर विरोध करने का एलान किया। यूनियन के सर्किल सचिव हनीश विनायक ने कहा कि इस केस में एक दुकानदार जिसे विजिलेंस विभाग पटियाला द्वारा सरेआम पैसे लेता पकड़ा गया है, उसके कहने पर इंजी. द¨वदर कुमार एसडीओ देहाती पातड़ां के खिलाफ मामला दर्ज कर दिया गया है, जबकि इंजी. द¨वदर कुमार के खिलाफ इस केस में कोई भी शमूलियत होने का सबूत नहीं मिला है तथा न ही शिकायतकर्ता द्वारा इंजी. द¨वदर कुमार एसडीओ के खिलाफ कोई शिकायत की गई है। इसके अलावा गिरफ्तार किए गए लाइनमैन द्वारा इंजी. द¨वदर कुमार की शमूलियत होने संबंधी कोई भी ब्यान नहीं दिया गया। विजिलेंस विभाग पटियाला द्वारा इंजी. द¨वदर कुमार को झूठे केस में फंसाकर तंग परेशान करने की कोशिश की जा रही है। इसका पीएसईबी इंजीनियर एसोसिएशन विरोध करती है। इसके अलावा इंजीनियर्स एसोसिएशन रीजन के समूह इंजीनियर्स ने मांग की कि द¨वदर कुमार के खिलाफ कोई भी विभागीय कार्रवाई करने से पहले पावरकॉम के सीनियर अधिकारी से निष्पक्ष जांच करवाई जाए, ताकि द¨वदर कुमार को इंसाफ मिल सके। यदि इंजी. द¨वदर कुमार पर बिना किसी ठोस पड़ताल कार्रवाई करने की कोशिश की गई तो समूह इंजीनियर्स एसोसिएशन को संघर्ष करने को मजबूर होना पड़ेगा।

Posted By: Jagran