जागरण संवाददाता, संगरूर

कच्चे अध्यापक यूनियन पंजाब ईकाई संगरूर की अगुआई में विभिन्न संगठनों ने बस स्टैंड रोड पर बैठक की। यहां से कच्चे अध्यापकों द्वारा रेस्टहाउस तक रोष मार्च करने का एलान किया गया। ड्यूटी मजिस्ट्रेट सुरेश शर्मा को ज्ञापन सौंपा गया। ईजीएस, एसटीआर, एआईइ, आइईवी व शिक्षा प्रोवाइडर यूनियन के नेता जुझार सिंह, कुलविदर सिंह, गुरचरन सिंह ने कहा कि पंजाब सरकार व शिक्षा विभाग उक्त अध्यापकों को अनदेखा कर आर्थिक व मानसिक शोषण कर रहे हैं। सरकार बनने से पहले कैप्टन अमरिदर सिंह ने मोहाली धरने में आकर उन्हें कांग्रेस सरकार बनने पर पहली कैबिनेट बैठक में ही रेगुलर करने व बराबर काम व बराबर वेतन देने का आश्वासन दिया था, लेकिन साढ़े चार वर्ष गुजर जाने के बाद भी उन्होंने अपने वादे पूरे नहीं किए। 15 जून की पैनल बैठक में रैगुलर करने का नोटिफिकेशन जारी न किया तो 17 जून को पटियाला मोती महल का घेराव किया जाएगा।

विभाग में सेवाएं रेगुलर होने तक उन्हें 40 हजार रुपये वेतन देने, 8393 प्री प्राइमरी पोस्टों पर तजुर्बे के आधार पर रेगुलर करने की मांग की। इस मौके पर सहयोगी संगठन के नेता देवी दयाल, फकीर सिंह टिब्बा, एडवोकेट हरदेव सिंह, बगा सिंह, रणजीत सिंह, रेशम सिंह, परविदर सिंह, कुलदीप सिंह आदि उपस्थित थे। ------------------------ रक्तदान की महत्ता के बारे में बताया

संवाद सहयोगी, अहमदगढ़ (संगरूर) : स्थानीय हिद अस्पताल में सोमवार को विश्व रक्तदान दिवस मनाया गया। इंचार्ज ब्लड बैंक मालेरकोटला डा. ज्योति कपूर ने विशेष तौर पर शिरकत की। अस्पताल के स्टाफ, मरीजों व दूसरे मौजूद लोगों को रक्तदान करने की महत्ता के बारे में जानकारी दी गई। अस्पताल के डायरेक्टर डा. सुनीत हिद ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान गत वर्ष से लेकर अब तक अस्पतालों में रक्त की कमी देखने को मिली है। इसकी वजह से मरीजों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने समाजसेवी संस्थाओं को रक्तदान कैंप लगाने की अपील की। डा. वरूणप्रीत कौर, डा. मोहन जोशी, डा. संजीन सिंह, राजकरण कौर, एडमिन जसवंत सिंह, मनप्रीत कौर, हरजोत कौर, सरबजीत कौर आदि उपस्थित थे।

Edited By: Jagran