जागरण संवाददाता, बरनाला :

भदौड़ के तलवंडी रोड़ पर वार्ड नंबर-1 में घनी आबादी में एक निजी कंपनी के टावर का मामला उस समय गरमा गया, जब पुलिस प्रशासन ने लोगों के भारी विरोध के बावजूद अपनी देख-रेख में कंपनी द्वारा टावर का काम शुरू करवा दिया।

टावर का काम शुरू करवाने के लिए थाना भदौड़ के प्रभारी गौरव वंश ¨सह के अलावा थाना शैहणा की प्रभारी जसवीर कौर पुलिस पार्टी सहित पहुंचे हुए थे। किसी हंगामे के डर से महिला पुलिस भी भारी संख्या में उपस्थित थीं। नायब तहसीलदार गुरमुख ¨सह भी अपने अमले सहित मौके पर पहुंचे।

इस मौके पर एकत्र हुए लोगों ने रोष जाहिर करते हुए कहा की उनकी गरीब बस्ती है, इस कारण इस बस्ती में टावर धक्के से लगाया जा रहा है। रेशम ¨सह, जगदीप ¨सह, सुखदीप ¨सह ने बताया कि मंगलवार सुबह पुलिस ने उन्हें थाने बुला लिया कि आपका कंपनी के साथ समझौता करवाते है, परंतु कुलदीप ¨सह, अमनदीप ¨सह, हरप्रीत ¨सह, सुखदीप ¨सह, सतनाम सत्ती आदि को गिरफ्तार करके थाने में बिठा लिया व पुलिस प्रशासन बेफिक्र होकर यहां काम करवाने लग पड़ा। इस मौके पर एकत्र हुए पुरुष व अन्य प्रशासन खिलाफ नारेबाजी करते हुए कहा कि वह यह टावर किसी भी कीमत पर लगने नहीं देंगे व धक्केशाही किसी भी कीमत पर बरदाश्त नहीं की जाएगी।

थाना प्रमुख गौरव वंश ¨सह ने बताया कि कंपनी के पास कानूनी तौर पर टावर लगाने की मंजूरी है व उच्च अधिकारियों के आदेशों के तहत वह उच्च अधिकारियों के आदेशों की पालना कर रहे हैं। जब उन्होंने थाने में हिरासत में लिए गए लोगों संबंधी पूछा, तो उन्होंने कहा कि अमन कानून की बहाली के लिए कुछ लोगों को थाने रखा गया है व उन पर कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जा रही। उन्होंने कहा कि उनकी कोशिश है कि अमन कानून को बहाल रखना उनका मुख्य एजेंडा है। अमन कानून को भांग करने की किसी भी शरारती तत्व को आज्ञा नहीं दी जाएगी।

दूसरी तरफ स्वर्ण कौर, जसवीर कौर, कुलदीप कौर, जगदीप ¨सह लाडी, सुखबीर ¨सह, रिशभ ¨सह, काका ¨सह, गोबिन्द ¨सह, जसवीर ¨सह ने कहा कि टावर के काम को रोकने के लिए उन्हें कोई भी कुर्बानी क्यों नहीं देनी पड़ी, टावर यहां नहीं लगने दिया जाएगा क्योंकि इसमें से निकल रही रेडीएशन किरणों का मानवीय सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

Posted By: Jagran