मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

सोनू उप्पल, बरनाला : राम नगर धनौला रोड़ गली नंबर एक नजदीक बाबा गांधा सिंह स्कूल में विगत कई दिनों से सीवरेज की अव्यवस्था के कारण लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, तो वहीं सिवरेज की समस्या का समाधान के लिए शुरू किया सीवेरज विभाग द्वारा काम लोगों के लिए बड़ी परेशानी बन गया है। गौर हो कि सीवरेज की सफाई को लेकर सिवरेज विभाग ने लोगों को सिवरेज ओवरफ्लो की समस्या से समाधान देने की वजह विगत कई दिनों से सीवरेज के खुले ढक्कन बीमारियों को न्योता दे हादसों का कारण बन रहे है, तो वहीं वाहन चालक रात के समय चोटिल हो रहे है। गौर हो कि गली मोहल्ले में खुले सिवरेज के ढक्कन बच्चों के लिए जानलेवा साबित हो सकते है।

बेशक बरनाला में मौजूदा सरकार द्वारा सिवरेज काम को 100 करोड़ की ग्रांट को लेकर लोकल नेताओं द्वारा गली गली शोर मचाया जा रहा है, लेकिन शहर में सिवरेज की अव्यवस्था इस एलान को झूठा साबित कर रही है। लोगों को ना तो 100 करोड़ व न ही अन्य कोई मदद सिवरेज व्यवस्था से राहत दिला पा रही है। इससे डेढ़ वर्ष पहले एलान एसडी कॉलेज सिवरेज मोटर समस्या का भी समाधान खाली एलान बनकर रह गया है। इस अवसर पर बेयंत कौर, अमरजीत कौर, सिंदर कौर, गुरमीत कौर, हरकीरत कौर, राजिदर कौर, गुरमेल कौर, रक्षा शर्मा ने कहा कि सीवरेज के खुले ढक्कन के कारण गंदी बदबू आ रही है व मक्खियां मच्छर फैल रहे है। गंदगी व मच्छरों के साथ डेंगू मलेरियां फैलने का भय बना है व बच्चे बीमार होने की कगार पर है। उन्होंने कहा कि उनको बच्चों को घर में बंद करके रखना पड़ रहा है, क्योकि खुले ढक्कन में गिरने का भय है। रात के समय वाहन चालक ढक्कन में फंस गिर चोटिल हो रहे है।

सीवरेज विभाग के एसडीओ राजिदर गर्ग ने कहा कि उन्हे उक्त मामले के बारे में कोई जानकारी नहीं है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!