मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, संगरूर :

मगनरेगा गवर्नमेंट कांट्रेक्ट कर्मचारी यूनियन की बैठक प्रांतीय उप प्रधान रणधीर सिंह व जिला प्रधान संजीव कुमार काकड़ा की अगुआई में हुई। संजीव काकड़ा ने बताया कि मनरेगा मुलाजिम पिछले 10 वर्षों से पंचायत विभाग में गांवों के विकास कार्य करवा रहे हैं कितु पंजाब की कैप्टन सरकार फिर भी मनरेगा मुलाजिमों को रेगुलर करने की तरफ ध्यान नहीं दे रही। पंजाब के गांवों में 70 प्रतिशत विकास मनरेगा स्कीम तहत ही हो रहा है। गौर हो कि जिला संगरूर के मननेगा मुलाजिमों को पिछले 4 माह से कोई वेतन जारी नहीं किया गया। मनरेगा मुलाजिम पंजाब की कैप्टन सरकार के नारे तहत घर-घर रोजगार मुहैया करवा रहे हैं कितु रोजगार देने वाले मुलाजिमों के अपने चूल्हे ठंडे पड़े हैं, इसलिए मरेगा मुलाजिमों का शेष वेतन जल्द से जल्द जारी की जाएं ताकि मनरेगा स्कीम तहत निर्विघ्न कार्य गांवों में चलते रहें। कॉमरेड नेता सज्जन सिंह पंजाब की कैप्टन सरकार को जगाने के लिए व समूचे कच्चे मुलाजिमों को मुलाजिम वेलफेयर एक्ट 2016 तहत रेगुलर करवाने के लिए 1 मई से चंडीगढ़ में चौथी बार मरण व्रत की शुरुआत करने जा रहे हैं। जिसका मनरेगा कर्मचारी यूनियन समर्थन करेगी व संघर्ष को कामयाब किया जाएगा। इस मौके जीवन कुमार, गुरप्रताप सिंह, राजविदर सिंह, जसवीर सिंह, सुखदेव सिंह, गुरमेल सिंह, मंजू रानी, गगनदीप सिंह, गुरप्रीत सिंह, रमनदीप सिंह, जगतार सिंह, तेजिदर सिंह, कुलजीत सिंह, गुरजीत सिंह आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!