जागरण संवाददाता, संगरूर : भारतीय चुनाव आयोग की तरफ से विधानसभा मतदान-2022 में चुनाव के दौरान कई ऐसी एप उपलब्ध करवाई हैं। जिनके माध्यम से वोटरों को न केवल अपने उम्मीदवार के बारे में जानकारी मिलती है, बल्कि वोटर घर बैठे अपने मोबाइल फोन पर ही चुनाव संबंधी हर जानकारी चंद सेकेंड में प्राप्त कर सकता है। ऐसे ही चुनाव मैदान में उतरे उम्मीदवारों के अपराधिक पृष्टभूमि बाबत आम लोगों को जानकारी देने के उद्देश्य से नो यूअर कैंडीडेट (अपने उम्मीदवार को जानो) एप्लीकेशन जारी की गई है।

जिला चुनाव अफसर-कम-डिप्टी कमिश्नर संगरूर रामवीर ने बताया कि विधानसभा मतदान-2022 में चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों की तरफ से अपना नामांकन पत्र दाखिल करते समय अपने आपराधिक पृष्टभूमि बाबत जानकारी नामांकन पत्र में दर्ज करना लाजिमी है। उन्होंने कहा कि डिजीटाइजेशन समय रिटर्निंग अफसर की तरफ से उम्मीदवार के आपराधिक पृष्टभूमि बारे हां या ना चेक बाक्स पर क्लिक करना होगा। उम्मीदवार की तरफ से नामांकन समय जमा करवाया दस्तावेज स्कैन करके अपलोड करना होगा। रिटर्निंग अफसर यह यकीनी बनाएंगे कि उम्मीदवार के आपराधिक पृष्टभूमि वाला दस्तावेज दुरुस्त है और कोई भी नागरिक इसे नो यूअर कैंडीडेट एप द्वारा देख सकेंगे। उन्होंने कहा कि इस एप्लीकेशन के जरिये वोटरों को अपने उम्मीदवारों के आपराधिक पृष्टभूमि बारे पता लग सकेगा व यह एप उन्हें अपने वोट के अधिकार की सही प्रयोग करने में मददगार होगी।

Edited By: Jagran