मनदीप कुमार, संगरूर : कहते हैं कि सही डाइट ही खिलाड़ियों की तंदुरुस्ती का राज होती है इसलिए खिलाड़ियों के खानपान पर पूरी तरह से गंभीरता बरतनी बेहद जरूरी है, लेकिन संगरूर के वार हीरोज स्टेडियम के स्वीमिग पूल पर आयोजित तैराकी व वाटर पोलो मुकाबले के दौरान खिलाड़ियों व अन्य मेहमानों को कुत्तों द्वारा मुंह मारने वाली जगह पर पकाया खाना ही प्रबंधकों ने परोस दिया। खाना बनाने वाली जगह पर गंदगी की भरमार थी। खुले आंगन में पकाये जा रहे खाने पर बरसात के छींटे भी पड़ गए, लेकिन प्रबंधकों व आयोजकों ने इस पर गंभीरता नहीं दिखाई। उल्लेखनीय है कि श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को समर्पित स्वीमिग स्पो‌र्ट्स व वेलफेयर क्लब द्वारा स्थानीय वार हीरोज स्टेडियम के स्वीमिग पूल पर दो दिवसीय तैराकी व वाटर पोलो मुकाबलों का आयोजन किया गया जहां पर खिलाड़ियों व मेहमानों के लिए नजदीक ही खाद्य पदार्थ बनाने के लिए बंदोबस्त किया गया था। खुले आसमान के नीचे टेंट लगाकर सामग्री बनाई जा रही थी, जहां कुत्ते भी खाने के लिए मुंह मारते दिखे। वहीं बरसात की बूंदों ने भी खाद्य सामग्री को धो डाला। खुले चूल्हे पर दूध उबालने के लिए रखा हुआ था, लेकिन पतीला गर्म होने के कारण कुत्ते ने इसके अंदर मुंह नहीं मारा। यहां पर बना खाना खिलाड़ियों व मेहमानों को परोस दिया गया, जिसकी भनक तक आयोजकों को नहीं लगी।

जहां बना खाना, वहां गंदगीखाना

मुकाबले के दौरान आए खिलाड़ियों व मेहमानों के लिए जहां खाद्य सामग्री, चाय-कॉफी बनाने का बंदोबस्त किया था, वहीं चारों तरफ घास-फूस उगा हुआ है, जहां गंदगी तो फैली ही है, साथ ही जहरीले कीट पनप रहे हैं। लेकिन यहां पर ही टेंट लगाकर खाना बनाने का प्रबंध कर दिया जाता है। यहां पर सब्जी, फल आदि काटे जाते हैं तथा गंदगी को इधर-उधर फेंक दिया जाता है। इससे साफ है कि खेल विभाग व आयोजकों को खिलाड़ियों की सेहत की कोई परवाह नहीं है।

दूसरों को नसीहत, खुद मियां फजीहत

सेहत विभाग की टीमों द्वारा शहर में खाद्य पदार्थो की दुकानों पर लगातार चेकिग करते हुए दुकानदारों व उनके स्टाफ को साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखने की हिदायत दी जाती है, ताकि किसी भी प्रकार की गंदगी, बाल आदि खाद्य पदार्थ में न पड़े, लेकिन यहां खिलाड़ियों की सेहत से हर दिन हो रहे खिलवाड़ के प्रति सेहत विभाग भी गंभीर नहीं है। सेहत विभाग ने यहां खिलाड़ियों के लिए तैयार होने वाले खाने या रिफ्रेशमेंट की कभी भी चेकिग नहीं की।

तुरंत होगी कार्रवाई

असिस्टेंट कमिश्नर (फूड) रविदर गर्ग से बात करने पर उन्होंने इसे गंभीरता से लेते हुए कहा कि तुरंत इस पर कार्रवाई की जाएगी। मौके का दौरा करके पूरी जांच की जाएगी जिनकी तरफ से भी यह प्रबंध किया गया, के खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा। भविष्य में होने वाले ऐसे प्रोग्रामों के दौरान बनाई जाने वाली सामग्री की पहल के आधार पर जांच करवाई जाएगी।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran