संवाद सूत्र, भवानीगढ़ (संगरूर)

स्थानीय अनाज मंडी में बरसाती पानी की निकासी न होने से खराब हुए धान के रोष में किसानों द्वारा शुरू किया धरना मार्केट कमेटी सचिव द्वारा माफी मांगने पर समाप्त कर दिया है। इससे पहले मंडी बोर्ड और पंजाब सरकार के खिलाफ भाकियू एकता सिद्धूपुर व पंथक चेतना लहर की अगुवाई में मार्केट कमेटी कार्यालय के गेट समक्ष रोष धरना दिया।

भारतीय किसान यूनियन एकता सिद्धूपुर के जिला महासचिव रण सिंह चट्ठा ने कहा कि बरसाती पानी की निकासी न होने से किसानों की धान पानी में डूबकर खराब हो गई जिसे लेकर सोमवार को मार्केट कमेटी कार्यालय समक्ष धरना दिया गया था। कमेटी सचिव को मिलने पर उन्होंने अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ लिया। ऐसे में जोर देने पर मार्केट कमेटी सचिव ने धरने में पहुंचकर किसानों से माफी मांगी और साथ में तहसीलदार राजेश आहुजा ने धान सुखाकर पूरा रेट देने का आश्वासन दिया जिस पर धरना समाप्त कर दिया गया। इस मौके पंथक चेतना लहर के कनवीनर प्रशोत्म सिंह फगुवाला, किसान नेता कश्मीर सिंह, हरजीत सिंह, लालविदर सिंह, बारा सिंह, सतनाम सिंह आदि मौजूद थे।

Edited By: Jagran