जागरण संवाददाता, संगरूर : पुरानी पेंशन स्कीम को बहाल करवाने की मांग को लेकर संगठन के गठन के लिए नयना देवी मंदिर के पार्क में बैठक की गई। बैठक में पुरानी पेंशन प्राप्ति फ्रंट संगरूर के एडहाक कमेटी का गठन किया गया। कमेटी ने 18 अगस्त को लुधियाना में होने वाले प्रांतीय चेतना सेमिनार में हिस्सा लेने का फैसला लिया। पुरानी पेंशन प्राप्ति फ्रंट के प्रांतीय कन्वीनर विक्रम देव सिंह, प्रांतीय नेता हरदीप सिंह टोडरपुर, रणवीर सिंह भवानीगढ़, विक्रमजीत मालेरकोटला की अगुआई में हुई। बैठक के दौरान निजीकरण व संसारीकरण की नीतियों को पूर्ण रूप से लागू करने की खातिर मुलाजिमों पर पुरानी पेंशन स्कीम की बजाए नेशनल पेंशन प्रणाली को लागू करने की सख्त शब्दों में निदा की गई। मुलाजिमों के भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए पुरानी पेंशन स्कीम बहाल करवाने के लिए कड़ा संघर्ष करने का फैसला लिया गया। जिले की 18 सदस्यीय कार्यकारिणी कमेटी में रघवीर सिंह भवानीगढ़, परमजीत सिंह कट्टू, यादविदर धूरी, विक्रमजीत सिंह मालेरकोटला, कर्मजीत नदामपुर, अमन वषिष्ट, मेघराज, सुखपाल सिंह रोमी, अमनिदर कुठाला, अमृतपाल सिंह, चरणजीत सिंह, हरविदर सिंह धंदीवाल, सिकंदर सिंह, बलविदर भुक्कल, कर्मजीत कौहरियां, गुरजंट मूनक, सरबजीत सिंह को बतौर सदस्य शामिल किया गया। उन्होंने अन्य मुलाजिमों को भी इस फ्रंट का हिस्सा बनने की अपील की। डेमोक्रेटिक टीचर्स फ्रंट संगरूर से बलवीर चंद लोंगोवाल, कुलदीप सिंह ने अपना सहयोग प्रदान किया। इस अवसर पर सुखविदर सिंह सुख, रिपुदमन कुमार, जतिदर सिंह खेड़ी, राजिदर समाना, भारत भूषण, हरप्रीत सिंह, गुरसेवक सिंह, सतनाम सिंह, दिनेश कुमार आदि उपस्थित थे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!