जेएनएन, संगरूर। शिरोमणि अकाली दल से बर्खास्त किए गए राज्यसभा सदस्य सुखदेव सिंह ढींडसा ने कहा कि शिअद प्रधान सुखबीर सिंह बादल को पैसे का अहंकार है। बादलों से अकाली दल व शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) को आजाद करवाने तक उनकी जंग जारी रहेगी। वह रविवार को 'पंथ बचाओ, पंजाब बचाओ, सैद्धांतिक नेता आगे लाओ' रैली को संबोधित कर रहे थे। ढींडसा व उनके पुत्र पूर्व वित्तमंत्री परमिंंदर सिंह ढींडसा ने दो फरवरी को हुई सुखबीर बादल की रैली के जवाब में यह रैली की। रैली का एजेंडा पंथ था, लेकिन निशाने पर बादल परिवार रहा।

ढींडसा ने कहा कि कैप्टन व बादल परिवार आपस में मिले हुए हैं, इसीलिए कैप्टन सरकार के समय में भी बादलों की बसें बिना परमिट के सड़कों पर दौड़ रही हैं। केबल माफिया पर भी नकेल नहीं कसी जा सकी है। उन्होंने मंच से एलान किया कि वह खुद कोई चुनाव नहीं लड़ेंगे, लेकिन पंथ को बचाने के लिए शुरू की इस लड़ाई में बादल परिवार से SGPC को आजाद करवाने को सभी दलों से मिलकर SGPC चुनाव लड़ेंगे। इसके बाद 2022 में विधानसभा चुनाव के दौरान भी मैदान में उतरेंगे और सरकार बनाएंगे।

रैली के दौरान सुखबीर बादल को पंथ से निकालने सहित सात प्रस्ताव पास किए। ढींडसा ने कहा कि दो फरवरी को सुखबीर ने रैली करके ढींडसा परिवार पर निशाना साधा था, जबकि रैली कैप्टन सरकार के खिलाफ थी। सुखबीर ने ढींडसा परिवार के सियासी करियर के भोग पडऩे की बात की थी, लेकिन आज की रैली बादल परिवार से SGPC को आजाद करवाने की मुहिम है।

न पार्टी में कोई पद चाहिए, न सरकार में : परमिंदर

परमिंदर ढींडसा ने एलान किया कि उन्हें न तो पार्टी में कोई पद चाहिए और न ही सरकार बनने पर कोई वजीरी। वह पंथ की खातिर सुखदेव ढींडसा की सोच के पीछे लगकर सेवा करेंगे। सुखबीर के आरोप पर कहा कि अगर एक व्यक्ति की धक्केशाही के खिलाफ बोलना पीठ में छुरा घोंपना है तो उन्होंने घोंपा है। उल्लेखनीय है कि सुखबीर ने आरोप लगाया था कि ढींडसा परिवार ने पार्टी की पीठ में छुरा घोंपा है।

सुखबीर बादल मंदबुद्धि : ब्रह्मपुरा

अकाली दल टकसाली के प्रधान रणजीत सिंह ब्रह्मपुरा ने सुखबीर बादल को मंदबुद्धि बच्चा करार देते हुए कहा कि उन्हें सिख सिद्धांतों, सिख इतिहास, गुरबाणी का कोई ज्ञान नहीं है। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को माफी भी श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार से मिलकर दबाव में दिलवाई।

रामूवालिया ने भी किया संबोधित

रैली में विधानसभा के पूर्व डिप्टी स्पीकर वीर दविंदर सिंह, पूर्व मंत्री बलवंत सिंह रामूवालिया ने भी बादल परिवार पर निशाना साधा। सभी ने मिलकर SGPC व अकाली दल को बादल परिवार के चंगुल से आजाद करवाने की दुहाई दी। इस मौके पर दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के पूर्व प्रधान मनजीत सिंह जीके, पूर्व मंत्री सेवा सिंह सेखवां आदि भी मौजूद थे।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!