संवाद सहयोगी, संगरूर : पंजाब यूटी मुलाजिम व पेंशनर सांझा फ्रंट जिला संगरूर की डीसी कार्याल्य समक्ष शुरू की भूख हड़ताल वीरवार को दूसरे दिन भी जारी रही। बैठक में पंजाब सबार्डिनेट सर्विसेज फेडरेशन जिला संगरूर के नेता सुखदेव चंगालीवाला के नेतृत्व में भरपूर सिंह, पिरथी सिंह, निर्मल चंद, भोला सिंह, शमी खान मुलाजिम हड़ताल पर बैठे। कनवीनर सुखदेव सिंह, प्रीतम सिंह, वासवीर सिंह, राज कुमार अरोड़ा, मेला सिंह, अविनाश शर्मा ने बताया कि पंजाब सरकार मुलाजिमों व पेंशनरों से धोखा कर रही है। महामारी का समय चल रहा है, लेकिन सरकार मुलाजिमों को राहत देने की बजाए उन्हें मिलती पहली सुविधाएं भी छीन रही है। इसके चलते समूह मुलाजिमों व पैंशनरों में सरकार के प्रति रोष पाया जा रहा है। उन्होंने केंद्रीय पैटर्न पर पे स्केल नोटिफिकेशन रद करने, छठे पे कमिशन की रिपोर्ट लागू करने, पुरानी पेंशन स्कीम बहाल करने, डीए की किश्तें जारी करने, कच्चे कर्मियों को पक्का करने, समूह विभागों की खाली पद खत्म करने की बजाय नई भर्ती करने, मोबाइल भत्ते में कटौती वापस लेने की मांग की। सरकार उनकी मांगों को लगातार अनदेखा कर रही है, जबकि मंत्रियों, विधायकों व अफसरों को मोटा वेतन, भत्ते व अन्य सुख सुविधाएं देकर सरकारी खजाने को लूटा जा रहा है। मालविदर सिंह, सरबजीत सिंह, जसवीर सिंह खालसा, करनैल सिंह ने कहा कि उन्हें मजबूरन हड़ताल का सहारा लेना पड़ा है, अगर फिर भी सरकार ने उनकी मांगे पर ध्यान न दिया तो आने वाले समय में संघर्ष तेज होगा। सफाई सेवक यूनियन जिला संगरूर के प्रधान भारत बेदी, राजेश टोनी ने कहा कि पंजाब का समूह सर्फाइ सेवक स्टाफ सांझे फ्रंट के झंडे के नीचे संघर्ष में साथ देगा। इस मौके स्टेज सचिव की भूमिका राज कुमार अरोड़ा राज्य नेता पेंशनर वेल्फेयर एसोसिएशन द्वारा निभाई गई।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!