संवाद सहयोगी, मालेरकोटला (संगरूर) : सर्वहितकारी शिक्षा समिति पंजाब द्वारा आयोजित परीक्षा जीनियर्स 2018 के परिणाम कैबिनेट मंत्री रजिया सुल्ताना ने घोषित किया।

सर्वहितकारी शिक्षा समिति पंजाब के प्रधान यशपाल गोयल व प्रधानाचार्य प्रेम ¨सह खिमटा के नेतृत्व में करवाए गए समारोह में रजिया सुल्ताना ने कहा कि पुराने समय में बच्चों को दूर शहरों में जाकर शिक्षा प्राप्त करनी पड़ती थी, जबकि आज वह घर के बिल्कुल पास ही उपलब्ध है। बच्चों को इसका फायदा उठाना चाहिए। अच्छी पढ़ाई से जहां बच्चों का भविष्य उज्जवल होगा, वहीं देश का भविष्य भी अच्छा होगा। विद्या भारती के शिक्षा में किए जा रहे कार्य की प्रशंसा की। जीनियर्स परीक्षा परिणाम घोषणा दौरान विजय नड्डा सह संह संगठन मंत्री विद्या भारती उत्तर क्षेत्र, सुरेन्द्र अत्री महामंत्री उत्तर क्षेत्र, यशपाल गोयल अध्यक्ष सर्वहितकारी शिक्षा समिति पंजाब मंच पर मौजूद रहे। कार्यक्रम में नगर कौंसिल के अध्यक्ष इकबाल फौजी, उपाध्यक्ष मनोज उप्पल, स्कूल के प्रबंधक कमल नेत्र वधावन व अध्यक्ष रमेश ¨सगला ने विशेष तौर पर शिरकत की।

सर्वहितकारी शिक्षा समिति के अन्तर्गत चलने वाले 123 विद्या मंदिरों में परीक्षा का प्रथम चरण 1 सितंबर को संपन्न हुआ था। परीक्षा में 8वीं कक्षा में 2528, 10वीं कक्षा में भी 2528 व 12वीं कक्षा में 736 विद्यार्थियों ने भाग लिया।

8वीं कक्षा में दयानंद पब्लिक स्कूल पांडूसर नाभा के अभिनव मेहता ने 90 प्रतिशत अंक प्राप्त कर पहला स्थान, 10वीं कक्षा में सर्वहितकारी विद्या मंदिर मालेरकोटला के शिवाय जैन ने 92 प्रतिशत अंक से पहला स्थान, 10+2 विज्ञान में माधव विद्या निकेतन अमृतसर के देवांश चंद ने 59 प्रतिशत अंक से पहला स्थान, 10+2 कॉमर्स में तारा चंद विद्या मंदिर भीखी की अमरजीत कौर ने शत प्रतिशत अंक से पहला स्थान प्राप्त किया। प्रेम ¨सह खिमटा ने बताया कि पहले पांच स्थान प्राप्त करने वाले छात्रों को 5000 रुपय प्रति छात्र, दूसरे पांच स्थान पर 3100 रुपये, तीसरे पांच स्थान वालों को 2100 रुपया प्रति छात्र व चार से लेकर 65 स्थान प्राप्त करने पर प्रति छात्र 500 रुपये नकद राशि देकर सम्मानित किया जाएगा।

Posted By: Jagran