जागरण संवाददाता, संगरूर

पंजाब सरकार द्वारा संगरूर में मेडिकल कालेज बनाने के किए गए एलान के तहत संगरूर से चंद किलोमीटर दूर मस्तुआना साहिब में मेडिकल कालेज के लिए चयनित जगह का जायजा लेने के लिए शनिवार को मुख्यमंत्री भगवंत मान मस्तुआना साहिब पहुंचे। यहां 25 एकड़ जगह पर मेडिकल कालेज का निर्माण आरंभ किया जाना है।

भगवंत मान ने कहा कि जल्द ही संत अतर सिंह की चरण स्पर्श जगह मस्तुआना साहिब में मेडिकल कालेज का निर्माण आरंभ किया जाएगा। इस मेडिकल कालेज का निर्माण होने से संगरूर या मालवा ही नहीं, बल्कि पूरे पंजाब को फायदा मिलेगा। मेडिकल सुविधा सहित मेडिकल एजूकेशन में संगरूर मजबूत होगा। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ने एलान किया था कि सरकार बनने पर पंजाब के सेहत की दिशा में मजबूत बनाया जाएगा तो यह पंजाब सरकार का पहले कदम होगा।

मुख्यमंत्री पंजाब भगवंत मान द्वारा गुरुद्वारा मस्तुआना साहिब में मेडिकल कॉलेज संबंधी जमीन का जायजा लेते समय कहा कि पंजाब सरकार सेहत व शिक्षा के स्तर को सुधारने के अपने वादे को पूरा करने में वचनबद्ध है। इसके तहत सरकार ने मेडिकल कॉलेज निर्माण करने की प्रवानगी दी है। कॉलेज के तैयार होने पर छात्र मेडिकल शिक्षा हासिल कर सकेंगे। इसके अलावा क्षेत्र के आम लोगों को भी बड़ी सुविधा मिलेगी। इस दौरान विभिन्न अफसर व गुरुद्वारा साहिब के मुख्य सेवादार बाबा दर्शन सिंह ने कहा कि गुरुद्वारा अंगीठा साहिब की ओर से कॉलेज के निर्माण के लिए पच्चीस एकड़ जमीन दी है। इस मौके जत्थेदार बाबा सुखविदर सिंह, जसवंत सिंह, मैनेजर सुखविदर सिंह व गांव के सदस्य मौजूद थे।

------------------

घाबदां में चन्नी ने रखा था मेडिकल कालेज का नींव पत्थर

गौर हो कि संगरूर हलके के लिए पिछली कांग्रेस सरकार के कार्यकाल दौरान मेडिकल कालेज का एलान किया गया था। इस मेडिकल कालेज के निर्माण हेतु संगरूर से दस किलोमीटर दूर गांव घाबदां में पीजीआई सेंटर के सामने दस एकड़ जमीन (गौशाला की जगह) चयनित की गई थी। 14 दिसंबर 2021 को तत्कालीन मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, वित्तमंत्री मनप्रीत बादल व कैबिनेट मंत्री विजयइंद्र सिगला द्वारा घाबदां में मेडिकल कालेज का नींव पत्थऱ रखा गया था। कितु सत्ता परिवर्तन के बाद घाबदां में मेडिकल कालेज के निर्माण को रद करके मस्तुआना में मेडिकल कालेज के लिए जगह चयनित की गई है। दावा किया जा रहा है कि यह जगह संगरूर के सिविल अस्पताल से नजदीक है व मात्र कुछ मीटर की दूरी पर ही बठिडा-चंडीगढ़ नेशनल हाईवे हैं, जबकि घाबदां का जगह दूर है। ऐसे में नेशनल मेडिकल कमीशन की तरफ से मस्तुआना साहिब में मेडिकल कालेज के लिए चयनित जगह को मंजूरी दी है।

Edited By: Jagran