संवाद सहयोगी, बरनाला : सीआइए स्टाफ ने एक लाख प्रतिबंधित गोलियों क्लोवीडोल-100एसआर को बरनाला में सप्लाई करने वाले दो आरोपितों को स्विफ्ट कार सहित काबू किया है।

एसपी नारकोटिक्स रुपिदर भारद्वाज, एसपीडी सुखदेव सिंह विर्क ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि कार पीबी-13बीजी-6747 पर गुरमीत सिंह व मनी दोनों निवासी सुनाम बड़ी मात्रा में प्रतिबंधित गोलियां बरनाला निवासी केसर सिंह को सप्लाई करने जा रहे थे। कस्बा हंडिआया के नजदीक पुलिस ने कार सहित दोनों को काबू कर एक लाख प्रतिबंधित गोलियां बरामद की हैं। उन्होंने बताया कि जिसकी कीमत करीब एक लाख रुपये है, जिसे नशे के तौर पर करीब 11 लाख रुपये में बेचा जाना था। इस अवसर पर डीएसपी आरएस दयोल, सीआइए स्टाफ के इंचार्ज इंस्पेक्टर बलजीत सिंह आदि उपस्थित थे।

20 हजार के लालच ने बंद कर दी आंखे

कार चालक गुरमीत सिंह के पास मनी भी काम करता था। दो पेटी को सप्लाई का 20 हजार मिला था, जिसके लालच में आकर वह इसे बरनाला में सप्लाई करने के लिए पहुंचे, लेकिन पुलिस की गिरफ्त में आ गए। गुरमीत सिंह ने बताया कि वह सोनीपत से प्रतिबंधित गोलियां लेकर आए थे। बंटी नाम के व्यक्ति ने उक्त गोलियां केसर सिंह निवासी बरनाला को लोकल रोड ओवरब्रिज के नजदीक सप्लाई करने के लिए दी थी।

दोनों तस्करों के साथियों की तलाश जारी

एसपी रुपिदर भारद्वाज ने कहा कि अगर यह प्रतिबंधित गोलियां सप्लाई हो जाती, तो पता नहीं कितने युवकों को नशे की दलदल में धकेल नशे का आदी बना देतीं। पकड़े गए युवकों के अन्य साथियों की भी तलाश की जा रही है।

अब तक पांच लाख प्रतिबंधित गोलियां बरामद

एसपीडी सुखदेव सिंह विर्क ने कहा कि नशा तस्करों को काबू करने के लिए मुहिम चलाई गई है, जिसके तहत अब तक करीब 5 लाख प्रतिबंधित गोलियां बरामद की जा चुकी हैं। नशे को सप्लाई करने, बेचने व खरीदने वाले आरोपितों को बख्सा नहीं जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!