जेएनएन, धूरी (संगरूर):

राज्यसभा सदस्य सुखदेव सिंह ढींडसा के समर्थकों द्वारा विधानसभा हलका धूरी के गुरुद्वारा साहिब में बैठक की गई। बैठक में अकाली दल के उप प्रधान राजिदर सिंह कांझला, अमनवीर सिंह चैरी, पार्षद अजय परोचा, मलकीत सिंह माधो, सुरिदर गोयल, योगिता शर्मा के पति नवतेज मिटू, पार्षद जमीला रानी के पति मेवा राम व पार्षद तनवीर कौर के पति परमजीत सिंह शामिल हुए।

जतिदर सिंह पूर्व प्रधान आढ़ती एसोसिएशन, सुखविदर सिंह धांदरा, जोगा सिंह, ज्ञान सिंह, जसवंत सिंह, सुखपाल शर्मा, जसवीर सिंह, बलदेव सिंह, बलवंत सिंह, तनवीर थनेसर, बंत सिंह, गुरविदर सिंह ने कहा कि अकाली दल अपने पंथक सैद्धांतिक पक्ष से भटक गया है, जिसे दोबारा सुखदेव सिंह ढींडसा के नेतृत्व में दोबारा मजबूत किया जाएगा। राज्यसभा सदस्य सुखदेव ढींडसा व विधायक परमिदर ढींडसा को निलंबित करना अकाली दल की बड़ी गलती है। राजिदर सिंह कांझला ने कहा कि सुखदेव ढींडसा व अन्य टकसाली अकाली नेताओं द्वारा शिरोमणि अकाली दल को सही रास्ते पर लाने, एसजीपीसी के चुनाव करवाने व शिरोमणि कमेटी के सदस्यों को राजनीतिक क्षेत्र में हिस्सा न लेने सहित अन्य मुद्दों को लेकर झंडा बुलंद किया गया है। अमनवीर सिंह चैरी ने कहा कि राज्य में ढींडसा परिवार व टकसाली नेताओं के हक में की जा रही बैठकें इस बात का सबूत है कि पार्टी वर्कर अकाली दल की नीतियों से खुश नहीं हैं।

नगर कौंसिल चुनाव संबंधी पूछे सवाल के जवाब में कहा कि टकसाली अकाली नगर कौंसिल चुनाव में सरगर्मी से हिस्सा लेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!