संवाद सूत्र, सुनाम ऊधम सिंह वाला (संगरूर) : लहरा-सुनाम मुख्य मार्ग पर वीरवार सुबह बारिश की वजह से एक मिनी बस असंतुलित होकर पलट गई। एक दर्जन लोग घायल हो गए। आधा दर्जन महिलाओं व पुरुषों को गंभीर चोट पहुंची। हादसे के बाद राहगीरों द्वारा घायलों को कड़ी मशक्कत के बाद बस से बाहर निकाला गया। साथ ही लोगों ने अपने वाहनों के जरिए सरकारी अस्पताल सुनाम व प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

जानकारी के मुताबिक वीरवार की सुबह करीब दस बजे एक निजी कंपनी की मिनी बस लहरा से सुनाम जा रही थी। गांव रामपुरा कोठे समक्ष पहुंचने पर बस फिसलन की वजह से बेकाबू होकर पलट गई।

राहगीरों की मानें तो बस की गति काफी तेज थी। हादसे के बाद राहगीरों द्वारा बस के शीशे तोड़कर व दरवाजे खोलकर सवारियों को बाहर निकाला गया। इनमें चोटियां के निवासी सैंसी सिंह, माया कौर छाजली, पुनीत लहरा, लवप्रीत कौर को सिविल अस्पताल सुनाम लाया गया। संगतपुरा के मेवा सिंह, हरदेव सिंह, छाजली के दर्शन सिंह, गोबिदगढ़ के लीला सिंह, गुरदेव कौर छाजली, सिदर कौर मंडेर और मनजीत कौर छाजली को निजी बसंत अस्पताल में दाखिल करवाया गया। थाना छाजली के एसएचओ गगनदीप सिंह ने बताया कि बस पलटने के कारण का पता लगाया जा रहा है। जांच पूरी होने के बाद कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। ------------------- युवक ने फंदा लगाकर खुदकुशी की

संवाद सहयोगी, बरनाला

बरनाला के नजदीकी गांव छापा में एक मजदूर परिवार से संबंधित युवक ने घर में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। थाना ठुल्लीवाल के प्रभारी अमरीक सिंह ने बताया कि पारिवारिक सदस्यों के अनुसार 19 वर्षीय खुशप्रीत सिंह पुत्र कुलदीप सिंह वीरवार सुबह अपनी माता व बहन को बस पर चढ़ाकर आया था। इस उपरांत घर आकर उसने कमरे में पंखे से फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। मृतक युवक के पिता दुबई गए हुए हैं। आत्महत्या के असल कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है। पारिवारिक सदस्यों के बयानों पर ही अगली कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran