संवाद सहयोगी, नूरपुरबेदी: नूरपुरबेदी क्षेत्र में निरंतर हो रही चोरी की घटनाओं से जहां लोगों में दहशत का माहौल है, वहीं पुलिस के हाथ कोई सुराग न लगने के चलते स्थानीय पुलिस भी बेबस नजर आ रही है। चोरों ने पुलिस चौकी कलमां से कुछ दूरी गांव कलमां में एक घर में हथियार के बल पर चोरी की वारदात को अंजाम दिया। घटना दौरान पारिवारिक सदस्यों के विरोध करने पर चोरों ने उन पर फायर करने की भी कोशिश की। इसमें नाकाम हो जाने से पारिवारिक सदस्यों का बचाव हो गया।

मंगलवार रात करीब 12 बजे पूर्व सरपंच अमरजीत सिंह बिट्टू के घर में दाखिल हुए चोरों ने 10 हजार रुपये की नकदी, दो मोबाइल फोन, सोने की बालियां व टेलीविजन चुरा लिया। चोर जाते समय टेलीविजन को साथ लगते खेतों में फेंक गए। पूर्व सरपंच अमरजीत सिंह बिट्टू ने बताया कि चोरों ने उसके घर में पहले दो बार घुसने का प्रयास किया। तीसरी बार चोर घर में दाखिल हुए, तो उसकी व उसके लड़के की आंख खुल गई। उन्होंने चोरों का पीछा करके उन्हें पकड़ने का प्रयास किया। इस पर चोरों ने अपने बचाव में उन पर हथियार तानकर फायर करने का प्रयास किया, लेकिन मौके पर हथियार नहीं चल सका और चोर भागने में सफल हो गए। भागते समय चोर हथियार के दो जिदा रौंद वहीं छोड़ गए। चोर गली में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए व जिनकी संख्या करीब चार बताई जा रही है। कैमरों की मदद से पता चला है कि चोर पूर्व सरपंच के घर में तीन बार दाखिल हुए। इस घटना के बाद डरे हुए पारिवारिक सदस्यों ने चौकी कलमां मोड़ की पुलिस को सूचना दी।

नूरपुरबेदी पुलिस के एसएचओ विक्रमजीत सिंह व चौकी कलमां मोड़ के इंचार्ज एसआइ सरताज सिंह पुलिस पार्टियों समेत मौके पर पहुंचे । सरताज सिंह ने कहा कि मौके पर से दो रौंद बरामद हुए हैं व फिगर प्रिट टीम जांच कर रही है। थाना प्रभारी नूरपुर बेदी विक्रमजीत सिंह ने कहा कि यदि पारिवारिक मेंबर तुरंत पुलिस को सूचित कर देते, तो चोरों को पकड़ा जा सकता था। एक घंटा देरी से सूचना मिलने पर चोर भागने में सफल हो गए।

Edited By: Jagran