जागरण संवाददाता, नंगल

हिमाचल सीमा से सटे शहर के नया नंगल क्षेत्र में सोमवार रात्रि आबकारी व कराधान विभाग के इंस्पेक्टर की पत्‍‌नी छीना-झपटी का शिकार हो गई । बीबीएमबी अस्पताल में उपचार के दौरान इंस्पेक्टर की पत्‍‌नी को मंगलवार दोपहर करीब 12.30 बजे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया। बीबीएमबी अस्पताल में उपचाराधीन आबकारी और कराधान विभाग के इंस्पेक्टर मनोज सहगल की पत्‍‌नी शशी सहगल ने बताया कि वह सोमवार रात्रि कागड़ा से वापस नया नंगल आ रही थी। उन्होंने बताया कि मैहतपुर के निकट होटल के समक्ष वॉल्वो बस से उतरकर जब घर जाने के लिए विभाग के कर्मचारी के स्कूटर पर बैठे तभी आगे जाकर नया नंगल से गुजरते सुनसान इलाके के रेन शेल्टर के पास खड़े नकाबपोश युवकों ने उनसे छीना झपटी का प्रयास किया व इस दौरान ही वे बैग छीन कर भागने में सफल हो गए। विभाग के कर्मचारी पवन कुमार ने बताया कि एक मोटरसाइकिल के पास तीन लोग खड़े थे जिनमें दो ने नकाब पहना हुआ था। देखते ही देखते उन्होंने पीछे बैठी शशी से छीना-झपटी की कोशिश की। बचाव करने के बावजूद उन्होंने हाथ में पकड़े डंडे से उन पर हमला कर दिया तथा वह गिर पड़े। काफी देर बाद जब उन्हें होश आया, तो देखा कि वह सड़क किनारे झाड़ियों के पास गिरे पड़े थे। सामान गायब था। शशी सहगल ने बताया कि झपटमार उनका बैग छीन कर ले गए हैं जिसमें 28 हजार की नकदी के अलावा करीब 70 हजार रुपये के जेवरात तथा एटीएम कार्ड व मोबाइल फोन था। कुल मिलाकर डेढ़ लाख कर चपत महिला को लगी है। शशी सहगल ने बताया कि उनके पति इन दिनों दुबई में हैं, जहा से उन्होंने अपने विभाग के कर्मचारी की ड्यूटी लगाई थी कि वह उनकी पत्‍‌नी को बस से उतरने के बाद नया नंगल सेक्टर एक में घर छोड़कर आए। इस दौरान ही वे छीना झपटी की वारदात का शिकार हो गई हैं। नया नंगल चौकी प्रभारी नरेंद्र सिंह ने बताया कि उन्हें इस मामले में एक्सीडेंट की जानकारी मिली है। अस्पताल में ब्यान लेने के लिए जब पुलिस पहुंची तो वहां महिला को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया था। बयान दर्ज करने के बाद ही अगली कार्रवाई शुरू की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!