संवाद सहयोगी, रूपनगर : रूपनगर के साथ लगते गांव बेला में स्थित अमर शहीद बाबा अजीत ¨सह जुझार ¨सह मेमोरियल कॉलेज ऑफ फार्मेसी में फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा प्रायोजित तीन दिवसीय कांटीन्यूइंग एजुकेशन प्रोग्राम (सीईपी) के दूसरे दिन देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक जताते हुए दो मिनट का मौन रखा। इस प्रोग्राम में देशभर से 30 शिक्षक भाग लेने के लिए पहुंचे हैं।

आज दूसरे दिन के सेशन में पंजाबी विश्व विद्यालय पटियाला से पहुंची विषय विशेषज्ञ डॉ. गुरप्रीत कौर ने पार्टीस्पेंट सेंटर्ड टी¨चग विषय पर शिक्षकों को संबोधित करते हुए जानकारी दी। इसके अलावा डीएसटी हरियाणा के आइपीआर वैज्ञानिक डॉ. राहुल तनेजा ने शिक्षकों के समक्ष पेटेंट्स तथा कापी राइट विषय पर विचार रखते हुए शिक्षकों के द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब दिए। इसी प्रकार बाद दोपहर के सेशन में पीजीआइ चंडीगढ़ के डॉ. अजय प्रकाश ने रिसर्च विषय पर चर्चा करते हुए शिक्षकों को जागरूक किया। उन्होंने शिक्षकों को समझाया कि इस विषय को अगर सही ढंग से पढ़ाया जाए तो विद्यार्थियों को समाज के लिए अधिक लाभकारी बनाया जा सकता है। रोल मॉडल बनने के लिए किया प्रेरित

बीएम कालेज उदयपुर के डॉ. युवराज ¨सह तंवर ने शिक्षकों को लाइपोसोम्स विषय के बारे विस्तृत रूप से जानकारी दी तथा शिक्षकों को विद्यार्थियों की विचारधारा के अनुरूप रोल मॉडल बनने के लिए प्रेरित भी किया। उन्होंने यह भी कहा कि शिक्षकों को अपना आचरण ऊंचा व प्रेरणा दायक रखना चाहिए। सेशन के समापन से पहले कालेज के निदेशक डॉ. सैलेश शर्मा ने सभी का आभार व्यक्त किया जबकि इस मौके मंच का संचालन हरमनप्रीत कौर व द¨वदर कौर ने किया।

Posted By: Jagran