संवाद सहयोगी, रूपनगर : चमकौर साहिब की रणजीतगढ़ कॉलोनी से गत 15 अगस्त को संदिग्ध अवस्था में लापता हुए बिहार के एक मजदूर का शनिवार की देर शाम को शव मिलने के बाद से लोगों में गहरा रोष है। इस मजदूर का शव माछीवाड़ा के पास सर¨हद नहर से बरामद किया गया है। शव मिलने के बाद आज सुबह से ही लोगों व मृतक के परिजनों तथा उसके साथी मजदूरों ने बड़ी संख्या में इकट्ठा होते हुए रूपनगर-चमकौर साहिब मार्ग पर धरना देते हुए जाम लगा दिया। इस मौके लोगों का कहना था कि जिस पवन साहनी पुत्र म¨हदर साहनी वासी रणजीतगढ़ जो कि मूल रूप से बिहार का रहने वाला था का शव सर¨हद नहर से बरामद किया गया है, उसकी हत्या की गई है जिसके बाद उसे नहर में फैंक दिया गया है। लोगों ने मांग की है कि हत्या करने वालों के खिलाफ जल्द से जल्द मामला दर्ज करते हुए उन्हें गिरफ्तार किया जाए।

इस मौके पर लोगों ने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई जबकि मौके पर अमरजीत व परिवारिक मेंबरों ने बताया कि जिस रात को पवन साहनी लापता हुआ था उसी दिन पुलिस को सूचना दी गई थी। उन्होंने बताया कि पुलिस को बताया गया था कि पवन जहां काम करता है वहां पैसे मांगने के लिए गया था। उन्होंने बताया कि वहां उसे कमरे में बंद कर लिया गया था जिसके बाद से उसके बारे कुछ खबर नहीं थी जबकि शनिवार की देर शाम उसका शव सर¨हद नहर में मिला है। हालांकि इस मौके पहुंची पुलिस ने लोगों से जाम खोलने की बार बार अपील की लेकिन लोग इसी बात पर अड़े रहे कि जब तक आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज नहीं होगा उस वक्त तक जाम नहीं खोला जाएगा। सुनवाई न होने पर दिया धरना

जानकारी के अनुसार मजदूर का शव मिलते ही सबसे पहले लोग मृतक के परिजनों के साथ थाने में गए थे व मांग की थी कि मामला हत्या का है इसलिए आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए उन्हें गिरफ्तार किया जाए। लोगों ने बताया कि जब उनकी सुनवाई नहीं हुई तो उन्होंने अमरजीत व इंद्रजीत के नेतृत्व में रूपनगर-चमकौर साहिब रोड पर जाम लगा दिया जिसमें मजदूरों के परिवार महिलाओं व बच्चों सहित शामिल हुए। मामला दर्ज होने पर उठाया जाम

इसके बाद पुलिस ने लोगों से बयान देने की बात कही जिसके बाद मजदूरों ने धरना एवं जाम समाप्त किया जबकि मृतक मजदूर की पत्नी शांति देवी के बयानों पर पुलिस ने दीपइंद्र ¨सह उसकी पत्नी न¨रदर कौर व पुत्र भगवंत ¨सह के अलावा एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ आईपीसी की धारा 342, 302 व 34 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। दीपइंद्र से बकाया लेने गया था पवन

मृतक की पत्नी शांति देवी ने पुलिस को बताया कि उसका पति पवन साहनी यहां दीपइंद्र ¨सह के पास मजदूरी का काम करता था तथा उसकी मजदूरी का दस हजार रूपये दीपइंद्र ¨सह की तरफ बकाया था जिसे पवन लेने गया था जिसके बाद उसका शव सर¨हद नहर में तैरता बरामद किया गया है। उसने मांग की कि उसके पति के हत्यारों को जल्द गिरफ्तार किया जाए। आरोपितों की तलाश जारी

इस बारे थाना प्रभारी सुखबीर ¨सह ने बताया कि शव बरामद करने के बाद मृतक की पत्नी के बयानों पर चार व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है जबकि आरोपितों की तलाश जारी है। उन्होंने बताया कि शव को कब्जे में लेते हुए रूपनगर सिविल अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया गया है जिसका सोमवार को पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

Posted By: Jagran