संवाद सूत्र, कीरतपुर साहिब

कीरतपुर साहिबके निकवर्ती गांव फतेहपुर बुंगा की जामा मस्जिद के समक्ष जमा होते बरसाती पानी की निकासी न होने के कारण मुसलमान भाईचारे में जिला प्रशासन के खिलाफ गहरा रोष पाया जा रहा है। मस्जिद के समक्ष जमा होते बरसाती पानी की निकासी न होने के चलते जहां यह पानी मस्जिद के समक्ष जमा हो जाता है, वहीं पानी मस्जिद की नींवों में भी जा रहा है। जिसके कारण मस्जिद की इमारत को भी खतरा बना हुआ है।

इस संबंधी मुसलमान भाईचारे तथा अन्य गांववासियों ने जानकारी देते बताया कि गांव फतेहपुर बूंगा में जामा मस्जिद के पानी की निकासी पहले आम की तरह होती थी। बरसात के दिनों में कोई समस्या पेश नहीं आती थी। लेकिन पिछले एक वर्ष से अधिक समय से पानी की निकासी बंद है। जिसके कारण जब भी बरसात होती है तो बरसाती पानी की निकासी के लिए कोई ड्रेन न होने के चलते सारा पानी मस्जिद के समक्ष सड़क पर जमा हो जाता है तथा मस्जिद की नींवों में भी जाता है। पिछले की दिनों से हो रही बारिश के कारण मस्जिद के आसपास चार-चार फीट पानी जमा हो गया है। यह पानी मस्जिद में नमाज अदा करन आते मुसलमान भाईचारे के लोगों तथा धार्मिक शिक्षा हासिल करने आते बच्चों को आने-जाने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्हें मस्जिद के समक्ष जमा पानी में से होकर गुजरना पड़ता है। इसके अलावा सड़क पर जमा पानी के कारण गांव के लोगों तथा राहगीरों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

पानी की निकासी न होने के कारण मस्जिद के समक्ष जमा पानी के कारण बीमारियों के फैलने का भी डर बना हुआ है। उन्होंने बताया कि वे इस समस्या का समाधान करवाने के संबंध में पिछले एक वर्ष से जिला प्रशासन के आधिकारियों से निवेदन कर चुके हैं। वे कई बार प्रशासनिक दफ्तरों के भी चक्कर काट चुके हैं लेकिन उनकी समस्या का समाधान नहीं किया गया। उन्होंने बताया कि पानी की निकासी के लिए ड्रेन बनाने के लिए तीन लाख रुपए की राशि मंजूर की गई थी लेकिन अभी तक पानी की निकासी करने के लिए ड्रेन बनाने का कोई कार्य भी शुरू नहीं हुआ है। मुसलमान भाईचारे के लोगों ने डीसी रूपनगर से मांग की है कि गांव फतेहपुर बूंगा की जामा मस्जिद के समक्ष जमा पानी की निकासी का उचित प्रबंध किया जाए तथा ड्रेन बनाने का कार्य भी जल्द शुरू करवाया जाए। उन्होंने कहा कि बरसाती पानी के कारण यदि मस्जिद को कोई नुक्सान पहुंचता है तो इसकी सारी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। उन्होंने कहा कि यदि प्रशासन 10 दिनों तक पानी की निकासी का उचित प्रबंध नहीं किया गया तो वे चक्का जाम करेंगे। जिसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। इस मौके नसीब मोहम्मद, ²ष्टि, अजय मोहम्मद, सुमेल मोहम्मद, फरीद खान, राहुल खान, ताज, सदीक मोहम्मद, बीरू आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran