सुभाष शर्मा, नंगल : नंगल डैम से गुजरते राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर पड़े गढ्डों को भाखड़ा ब्यास प्रबंध बोर्ड ने भरना शुरू कर दिया है। दैनिक जागरण में गत 9 सितंबर को प्रमुखता से एनएच पर बढ़ते जा रहे गड्ढों की वजह से ट्रैफिक जाम की इंटर स्टेट समस्या को उजागर किया था। इसके बाद बीबीएमबी प्रशासन ने कड़ा संज्ञान लेते हुए गड्ढों को भरने का काम शुरू कर दिया है। वहीं टोल प्लाजा कंपनी ने भी गढ्डों को भरने की दिशा में धीमी गति से काम शुरू किया है। उम्मीद है कि वाहन चालकों को ट्रैफिक जाम की समस्या से राहत मिल जाएगी। बता दें कि डैम के आसपास मात्र 200 मीटर तक एनएच पर गढ्डों की संख्या बेशुमार हो चुकी है। गहरे गढ्डों की वजह से यहा से वाहन रुक-रुक कर चल रहे हैं। एनएच के आसपास बार-बार रेलवे के लगने वाले पाच फाटक भी इलाका वासियों के लिए जी का जंजाल बन चुके हैं। परिणामस्वरुप जाम लगने से ट्रैफिक सिस्टम पूरी तरह से उलझ चुका है। इस वजह से दूर प्रातों की ओर जाने वाले वाहन चालक घटों देरी से आगे बढ़ रहे हैं। इसके अलावा हिमाचल से चंडीगढ़ पीजीआई की ओर जाने वाले रोगी वाहनों की संख्या भी काफी अधिक है जो ट्रैफिक जाम से परेशानी झेलते आ रहे हैं।

4 दिन में समस्या से मिलेगी निजात

गत रात्रि करीब 11 बजे शुरू हुए गढ्डे भरने के कार्य की जानकारी देते हुए भाखड़ा बाध के डिप्टी चीफ इंजीनियर एचएल कंबोज ने बताया कि डैम की सड़क पर पड़े गढ्डों को मात्र 4 दिन के अंदर भर दिया जाएगा। गढ्डे भरने के लिए पहली बार ऐसा मैटीरियल प्रयोग में लाया गया है जो गढ्डों को मजबूती से समतल करेगा। उन्होंने बताया कि इस मार्ग पर वाहनों की संख्या बेशुमार है। ऐसे में दिन के समय गढ्डे भरना मुश्किल था। इसलिए रात के समय गढ्डों को भरने का काम शुरू किया गया है।

केंद्र सरकार नहीं बना रही फोरलेन मार्ग

केंद्रीय राजमार्ग मंत्रालय ने शहर में राष्ट्रीय उच्च मार्ग एक्सटेंशन 503 का काम शुरू नहीं किया है। बीओटी मार्ग होने के कारण केंद्र सरकार यहा मार्ग को फोरलेन बनाने का काम शुरू नहीं कर रही है। ऐसे में आनंदपुर साहिब से लेकर मैहतपुर तक के सिंगल मार्ग पर आए दिन हादसे हो रहे हैं। वहीं गढ्डों के कारण नंगल डैम के आसपास भी हर वक्त ट्रैफिक जाम की समस्या बनी रहती है। गत शनिवार रात्रि भी करीब 8 बजे ट्रैफिक जाम रहा जिससे कई किलोमीटर तक जाम लगने से वाहन घटों देरी से आगे रवाना हो पाए।

Posted By: Jagran