संवाद सहयोगी, रूपनगर

रूपनगर-कुराली रेल मार्ग पर डेरा बाबा गोसाई आणा के पास बनाए जा रहे रेलवे अंडर पास से थोड़ा आगे रेल ट्रैक के नीचे की मिट्टी धंस गई जिस बारे समय पर पता लग जाने के कारण बड़ा हादसा होने से टल गया।

इस संबंधी हासिल की गई जानकारी के अनुसार डेरा बाबा गोसाई आणा के पास अनाज मंडी को जोड़ने वाली रेलवे रोड पर बनाए जाने वाले रेलवे अंडर ब्रिज के कारण कुछ समय पहले रेलवे द्वारा जमीन की खुदाई की गई थी , जिसके बाद अंडर ब्रिज बनाने के लिए खुदाई वाली जगह पर स्लैब तो डाल दी गई जबकि शेष हिस्से को मिट्टी डालते हुए भर दिया गया। उसी मिट्टी वाली जगह से मिट्टी धंस गई जिसके बाद तीन रेल ट्रैक वाले इस रूट की एक लाइन हवा में लटक गई। आसपास के लोगों की अगर मानें तो पिछले दिनों हुई बारिश के बाद कुराली की खुशी राम कालोनी की निकासी वाला पानी निर्माणाधीण पुल के नीचे जमा हो गया, जिसके चलते मिट्टी धंस गई। रेलवे लाइन के नीचे से मिट्टी खिसकने कारण इससे पहले कि कोई हादसा होता रेलवे विभाग को भनक लग गई व समय पर चौकस हुए रेलवे विभाग ने इस संबंधी रूपनगर तथा मो¨रडा स्टेशनों के अधिकारियों के साथ साथ अंबाला डिवीजन को भी सूचित करते हुए दोनों साइड का रेल ट्रैफिक रोक दिया गया। इसके बाद रेलवे विभाग ने युद्ध स्तर पर काम करते हुए घंटों की मेहनत बाद मिट्टी, रेत व बजरी से भरे थैले लगाते हुए रेल यातायात को बहाल करने के प्रयास शुरू कर दिए। इस संबंधी अंडर ब्रिज का निर्माण कर रही कंपनी के अधिकारी ओंकार ¨सह ने कहा कि मिट्टी धंसने संबंधी समय पर पता चलने उपरांत तुरंत मौका संभाल लिया गया । दूसरी तरफ स्टेशन मास्टर मनोज कुमार ने बताया कि सूचना मिलते ही उन्होंने नियमानुसार उच्च अधिकारियों से बात करते हुए जरूरी प्रबंध कर लिए थे, ताकि कोई हादसा न हो सके। उन्होंने यह भी बताया कि सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जहां भी अंडर ब्रिज बनाए गए हैं या बनाए जा रहे हैं , वहां विशेष रूप से कर्मचारी तैनात कर दिए गए है।

By Jagran