संवाद सहयोगी, नूरपुरबेदी

स्कूल फीस मामले में पहले से विवादों में घिरे गांव हियातपुर में बने सेंट मेरी स्कूल के ¨प्रसिपल के साथ स्कूल के ही बस चालकों के बीच न सिर्फ तू- तू मैं - मैं हुई बल्कि बस चालकों ने ¨प्रसिपल की पिटाई भी कर दी। विवाद स्कूल में टेस्ट पेपर को लीक करने को लेकर हुआ। स्कूल ¨प्रसिपल का आरोप है कि दो अध्यापिकाओं ने वाट्सएप के जरिये टेस्ट पेपर एक दूसरे को भेजकर लीक कर दिया। वहीं, अध्यापकों के हक में ¨प्रसिपल को मिलने गए बस चालकों ने कहा कि ¨प्रसिपल का व्यवहार अध्यापकों के साथ ठीक नहीं है। ¨प्रसिपल अध्यापकों से अभद्र भाषा का प्रयोग करता है। गाली गलौज भी करता है। उधर, मामला नूरपुरबेदी पुलिस के पास पहुंच गया है। स्कूल में कार्यरत एक कर्मचारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि इन दिनों स्कूल में छात्रों के टेस्ट चल रहे थे। इस दौरान स्कूल के ¨प्रसिपल ने सोमवार को स्कूल के दो अध्यापिकाओं को टेस्ट पेपर को लीक करने के नाम पर स्कूल में जलील किया गया। यही नहीं, ¨प्रसिपल ने इन अध्यापिकाओं को छुट्टी होने के बाद भी कई घंटों तक स्कूल में ही बिठाकर परेशान किया, लेकिन मंगलवार को उस समय बात और भी आगे बढ़ गई जब ¨प्रसिपल ने स्कूल की बसों के चालकों के हाजिरी रजिस्टर को ही फाड़ दिया। इसके उपरांत जब बस चालक अध्यापिकाओं को जलील करने तथा हाजरी रजिस्टर को फाड़ने के संबंध में स्कूल के ¨प्रसिपल के कमरे में उससे बात करने गए, तो ¨प्रसिपल ने उनके साथ गाली गलौज करना शुरू कर दिया। जिसके बाद गुस्साए बस चालकों ने देखते ही देखते ¨प्रसिपल की जमकर धुनाई करनी शुरू कर दी। इस घटना के बाद स्कूल प्रबंधक भी मौके पर पहुंच गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस दौरान स्कूल स्टाफ तथा बस चालकों ने ¨प्रसिपल, उसकी पत्नी व एक स्कूल अध्यापक के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए एक मांगपत्र भी प्रबंधकों को दिया। थाना नूरपुरबेदी पुलिस को भी शिकायत दी है। शिकायत लेकर गए बस चालक थाने में बिठाए दूसरी तरफ, स्कूल प्रबंधकों के खिलाफ शिकायत लेकर पहुंचे दो बस चालकों को पुलिस ने थाने में ही बिठा लिया। सूत्रों के मुताबिक पुलिस ने शिकायत लेकर आए बस चालकों की बात तक नहीं सुनी तथा अपनी कस्टडी में ले लिया। इसके बाद बस चालकों के हक में लोग थाना नूरपुरबेदी में जुटने शुरू हो गए।

मेरे साथ हाथापाई की : ¨प्रसिपल एमजी पांडेया सेंट मेरी स्कूल के ¨प्रसिपल एमजी पांडेया ने कहा कि स्कूल के दो अध्यापकों ने टेस्ट पेपर वाट्सएप के जरिये लीक कर दिया था तथा उसने टेस्ट पेपर लीक करने के संबंध में अध्यापिकाओं से पूछा था। जबकि बस चालकों ने उसके साथ गाली गलौज किया और हाथापाई की। फुटेज में ¨प्रसिपल को तमाचा मारता दिखाई देता है एक बस चालक: एसएचओ देसराज नूरपुरबेदी पुलिस स्टेशन के एसएचओ देसराज ने कहा कि उनके पास स्कूल प्रबंधकों की शिकायत आई है कि बस चालकों ने उनके साथ मारपीट की है। उन्होंने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज भी देखी है। जिसमें बस चालक सीधे ही जाकर स्कूल ¨प्रसिपल को तमाचा मारता दिखाई देता है। मामले में कानून के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran