संवाद सहयोगी, रूपनगर : कोरोना संकट के दौरान बढ़ी डीजल व पेट्रोल की कीमतों का असर सब्जी पर भी पड़ने लगा है । कोरोना संकट के बावजूद सब्जी की पैदावार में कोई कमी नहीं है तथा सब्जियों की आपूर्ति चैन में भी कोई बाधा नहीं है बावजूद इसके सब्जियों के दाम बढ़ने के पीछे मात्र एक कारण डीजल के दाम बढ़ने के बाद ढुलाई भाड़े में हुई वृद्धि को माना जा रहा है।

डीजल की कीमतों की बात करें तो 25 दिन पहले 63.50 पैसे प्रति लीटर मिलने वाला डीजल आज 75 रूपये प्रति लीटर को छूने लगा है। आढ़ती मिक्की सोनी के अनुसार सब्जी का जो ट्रक एक माह पहले 80-82 हजार रुपये में आता रहा है वही आज 94 से 96 हजार रुपये भाड़े पर आ रहा है जिसके चलते सब्जियों के दाम भी बढ़ गए हैं लेकिन मंडी में सब्जियों की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर डीजल की कीमते कंट्रोल नहीं हुई तो बरसात के मौसम में सब्जी बाजार के और महंगा होने के आसार हैं। सब्जियों के दाम पहले अब (प्रति किलो)

आलू 12 रुपये 25 रुपये

प्याज 10 रुपये 25 रुपये

टमाटर 10 रुपये 40 रुपये

अदरक 60 रूपये 120 रुपये

खीरा 10 रुपये 25 रुपये

भिडी 15 रुपये 25 रुपये किलो

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!