संवाद सूत्र, घनौली: श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400 वें प्रकाश पर्व को समर्पित अलौकिक नगर कीर्तन पांच प्यारों और गुरु ग्रंथ साहिब की छत्रछाया में अमृतसर साहिब से एसजीपीसी का सजाया नगर कीर्तन विभिन्न शहरों गांवों से होता हुआ भट्ठा साहिब से रवाना हुआ। इसके घनौली में पहुंचने पर संगत ने फूलों की वर्षा कर नगर कीर्तन का स्वागत किया। संगत गुरु ग्रंथ साहिब के आगे नतमस्तक हुई। इलाके की संगत व घनौली मंडी की आढ़ती एसोसिएशन ने तरह- तरह के लंगर लगाए। घनौली इलाके के शिरोमणि अकाली दल के अधिकारियों और गांवों की संगत ने पांच प्यारों को सिरोपा और श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी को सुंदर रुमाले भेंट किए गए। नगर कीर्तन दौरान शिरोमणि अकाली दल के वक्ता और पूर्व शिक्षा मंत्री डा. दलजीत सिंह चीमा भी उपस्थित रहे। उन्होंने समूह संगत को गुरु साहिब के दिखाए सिद्धांतों पर चलने की नसीहत दी। शिरोमणि अकाली दल के जिला प्रधान गुरिदर सिंह गोगी और महिला विग की राज्य उप प्रधान पलविदर कौर रानी ने भी इस पवित्र मौके की सभी को बधाई दी। पंथ प्रसिद्ध ढाडी ज्ञानी रणजीत सिंह राणा ने नगर कीर्तन का स्वागत कर संगत को बारे सुना कर निहाल किया। घनौली के शिव मंदिर कमेटी के अधिकारी और हिदू भाई भी इस नगर कीर्तन के स्वागत के लिए उमड़े। इस मौके पर महिला विग की राज्य उप प्रधान पलविदर कौर रानी, गुरमुख सिंह सैनी, यूथ नेता स्वर्णजीत सिंह बोबी बहादरपुर, गुरमुख सिंह सैनी, जिला सचिव सुखिदरपाल सिंह बोबी बहरा, सर्कल प्रधान रविदर सिंह काला, कारोबारी कुलवंत सिंह राजू, कारोबारी अमरदीप सिंह दीपू, गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी घनौली के प्रधान ज्ञान सिंह, दलजीत सिंह भुट्टो, रजिदर सिंह भोला, अजमेर सिंह बिक्कों, सुखविदर सिंह साहोमाजरा, हरविदर सिंह कमालपुर, कथावाचक ज्ञानी सतनाम सिंह व जत्थेदार भाग सिंह भी मौजूद थे। इनके अलावा मोहन सिंह, निर्मल सिंह, गुरमीत सिंह, आढ़ती नरिदर सिंह निदी, आढ़ती बलदेव सिंह, अमनदीप सिंह गोल्डी, ग्रंथी भाई अजैब सिंह, कुलदीप सिंह, प्रिस कौशिक, गुलशन कुमार, संजू कुमार, भक्त सिंह, अवतार सिंह बेगमपुरा, सुरजीत सिंह नूंहों कालोनी, बूट सिंह मकौड़ी, पूर्व सरपंच अवतार सिंह मकौड़ी, जागीर सिंह, पंच नर्म सिंह बिक्कों ने भी नगर कीर्तन का स्वागत किया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप