जागरण संवाददाता, नंगल

श्री सिद्ध बाबा बालक नाथ जी की पावन गुफा की ओर 28 अप्रैल रविवार को नंगल से रवाना होने वाले भव्य 48वें वार्षिक चाले के प्रति भक्तों में भारी उत्साह पाया जा रहा है। यात्रा पर जाने वाले भक्त बुकिंग करवाने में जुटे हुए हैं। 27 अप्रैल शनिवार रात तक चलने वाले पंजीकरण की जानकारी देते हुए मंदिर कमेटी के उपप्रधान कुलदीप सूद तथा कार्यकारिणी सदस्य राकेश ठाकुर ने बताया कि इस समय यात्रा में जाने वाले वाहनों की संख्या इस समय 250 तक पहुंच गई है। बड़े उत्साह के साथ शहर के अलावा दूर महानगरों व शहरों के भक्त यात्रा के लिए अपने नाम दर्ज करवा चुके हैं। ब्रह्मंलीन मास्टर बिहारी लाल शर्मा के मार्गदर्शन से शुरू की गई यात्रा में शामिल होने वाले भक्तों के स्वागत के लिए तैयारिया शुरू हैं। स्वागती द्वार बनाने के साथ-साथ मंदिर मार्ग को लाल ध्वजों से सजाया जा चुका है। चाला के उपलक्ष्य में बाबा जी का सुंदर ऊंचा मंदिर भी दीप मालाओं से सजा दिया गया है। सुबह-शाम लगातार तैयारियों की रूपरेखा बनाने में मंदिर कमेटी तनदेही से जुटी हुई है। गुरदीप शर्मा, अशोक सूद, नरेंद्र ठाकुर व प्रवीन कुमार ने बताया कि यात्रियों में प्रसाद के रूप में बाटे जाने वाले बाबा जी के देसी घी में पूर्ण पवित्रता से रोट बनाने का कार्य 26 अप्रैल शुक्रवार को मंदिर में शुरू किया जाएगा।

नंगल से चलने वाली यात्रा के मध्य पड़ाव के दौरान जिला ऊना के आगे डुमखर खड्ड तथा उसके बाद रात के समय शाहतलाई में भक्तों के लिए अटूट लंगर लगाया जाएगा। वार्षिक चाले में भाग लेने के लिए भक्तजन रोपड़, चंडीगढ़, खरड़, अम्बाला, लुधियाना, सुनाम, खन्ना, नवाशहर, फगवाड़ा, पावटा साहिब, पालमपुर, पानीपत, ऊना, तलवाड़ा, हाजीपुर, पटियाला, जालंधर, अमृतसर, फाजिल्का, पस्सी कंडी, आसाम, बंगलूरु, चेन्नई, दिल्ली, जम्मू के अलावा बैहरीन, सिंगापुर, नार्वे, चीन, मिस्त्र, थाइलैंड व अमेरिका आदि देशों से लोग विशेष रूप से नंगल पहुंच रहे हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!