जागरण संवाददाता, नंगल: नंगल में पिछले चार सालों से बन रहे फोरलेन फ्लाईओवर का काम पूरा न हो पाने के मद्देनजर शहर वासियों की आवाज को बुलंद करते हुए मंगलवार को विभिन्न संगठनों ने रोष प्रदर्शन किया। मांग उठाई गई है कि फ्लाइओवर का काम तेजी के साथ शुरू करके खत्म किया जाए। सर्विस मार्गों को चालू करने के साथ ही ट्रक यूनियन चौक के निकट बंद किए गए नार्दर्न रेलवे के सी-88 फाटक को खोलने के साथ अंडर पास का निर्माण किया जाए। फ्लाईओवर की वजह से बढ़ चुकी परेशानी के मद्देनजर पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार सुबह नौ बजे से दोपहर 12 बजे तक शहर के सभी बाजार बंद रखे गए थे। इसके बाद बस स्टैंड व निर्माणाधीन फोरलेन फ्लाईओवर के पास धरने में एकत्र हुए विभिन्न राजनीतिक दलों के साथ ही समाज सेवी व धार्मिक संगठनों के पदाधिकारियों ने पहुंचकर रोष व्यक्त किया। गठित की गई संघर्ष कमेटी के कोआर्डिनेटर सुरजीत सिंह ढेर के अलावा भाजपा नंगल के अध्यक्ष राजेश चौधरी, कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता एडवोकेट परमजीत सिंह पम्मा, राकेश नैयर, उमाकांत शर्मा, प्रदीप सोनी, कांग्रेस पार्षद सुरेंद्र पम्मा, दीपक नंदा, सोनिया सैनी, सीपीआईएम व सीटू के सुखदेव डिग्ग्वा, विनोद भट्टी, कामरेड जगत राम शर्मा, कामरेड विजय शर्मा, भाजपा पार्षद रंजीत सिंह लक्की आदि ने कहा कि फ्लाईओवर का काम पूरा नहीं हो रहा है। ऐसे में शहर वासियों की दिक्कतें बढ़ती जा रही हैं। नंगल डैम के टी प्वाइंट मार्ग से डायवर्ट किए गए ट्रैफिक के कारण ट्रैफिक जाम की समस्या अब शहर के अंदर तक पहुंच चुकी है। जाम की वजह से ही नया नंगल की तरफ से नंगल के बाजारों में ग्राहकों की आमद कम हो जाने से शहर की आर्थिक स्थिति डांवाडोल हो चुकी है।

धरने में बोलते हुए भाजपा के अध्यक्ष राजेश चौधरी ने कहा कि वे पूरी तरह से तैयार हैं। संघर्ष कमेटी किसी भी समय दिल्ली में केंद्र सरकार के आला नेताओं तक संपर्क करने की योजना तैयार करे। दिल्ली जाकर फोरलेन फ्लाईओवर प्रोजेक्ट को पूरा करवाने की मांग को पुरजोर ढंग से उठाएंगे। उधर एडवोकेट परमजीत सिंह पम्मा ने भी कहा है कि छह दिसंबर को रेलवे के सी-88 फाटक को बंद करने की जो घोषणा की गई है उसके बाद रास्ते को रेलवे प्रशासन ने नहीं बल्कि फोरलेन फ्लाईओवर बना रही कंपनी ने ही बंद किया है जबकि यह कानूनन जुर्म है। फ्लाईओवर बना रही कंपनी रास्ते को बंद नहीं कर सकती। ऐसे में आने वाले दिनों में भी इस मुद्दे को लेकर कड़ा रुख अपनाया जाएगा। रोष प्रदर्शन में शामिल श्री सनातन धर्म सभा के प्रधान रमेश गुलाटी, अंबेडकर मिशन सोसायटी के बिकानू राम, तरसेम लाल, कुंदन लाल, बाल्मीकि सभा नंगल, एक पहल वेलफेयर सोसायटी के दिलबाग चंदेल, रहमत अली, अजय शर्मा, संदीप चंदेल, इलाका संघर्ष कमेटी के एडवोकेट विशाल सैनी, सीनियर सिटीजन वेलफेयर सोसाइटी देव राम धामी, नया नंगल सोशल वेलफेयर कमेटी, कांगड़ा वेलफेयर सोसायटी सुरेश ठाकुर, आदर्श वेलफेयर सोसायटी से तरसेम लाल मट्टू, व्यापार मंडल रेलवे रोड के संदीप मित्तल, अड्डा मार्केट व्यापार मंडल के गुरदीप सिंह बावा, मेन मार्केट से आरके जसवाल, राज सिंह नंगल, नंगल भाखड़ा मजदूर संघ इंटक के प्रधान सतनाम सिंह लादी सहित करीब 20 संगठनों के सदस्यों के अलावा शहर के व्यापारियों योगेश साहनी, बलराज साहनी, संजीव कपिला, चनन सिंह, तिलक राज लक्की , पंकज बत्तरा, कुलवीर वैद, अमरजीत सिंह आदि ने भी शिरकत करते हुए नांगल बांध के संघर्ष को सफल बनाने में योगदान दिया।

मौजूदा व पिछली सरकार पर उठाए सवाल नंगल बंद करके किए गए रोष प्रदर्शन में आम आदमी पार्टी को छोड़कर अन्य सभी राजनीतिक दल इस प्रदर्शन में शामिल थे। रोष प्रदर्शन के दौरान जहां कई लोगों ने फ्लाईओवर के ठप पड़े काम को लेकर मौजूदा पंजाब सरकार पर अप्रत्यक्ष रूप से निशाना साधा है वहीं कई लोगों ने धरने में यह भी कहा है कि पिछले समय की सरकार यानि कांग्रेस पार्टी के शासनकाल की तरफ भी ध्यान दिया जाना चाहिए, क्योंकि विगत में ही गंभीरता ना दिखाई जाने के कारण फ्लाईओवर का काम आज तक पूरा नहीं हो सका है। कहा गया कि निर्माण कार्य के लिए समय पर जरूरी सभी स्वीकृतियां उपलब्ध ना हो पाने के लिए पिछली सरकार जिम्मेदार है। शायद यही वजह है कि आज तक फ्लाईओवर का काम पूरा नहीं हो पाया है। कहा गया कि मौजूदा सरकार को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है क्योंकि ऐसे एक नहीं कई मसले हैं जो पिछली सरकार के समय ही पैदा हुए थे जिनकी वजह से ही शहर के अंदर फ्लाईओवर का काम अभी तक पूरा नहीं हो सका है। श्री राम कुष्ठ आश्रम का निर्माण दो साल बाद भी पूरा नहीं हुआ है जबकि इस आश्रम को हटाकर नया आश्रम बनाने का काम फ्लाईओवर निर्माण के शुरू होते ही पूरा होना चाहिए था। आज जब फ्लाईओवर का काम 80 प्रतिशत तक पूरा हो चुका है, बावजूद इसके 19 सितंबर 2020 को गिराए गए श्री राम कुष्ठ आश्रम की निर्माणाधीन इमारत का काम पूरा नहीं हो सका है। चार साल पहले ली जानी चाहिए थीं स्वीकृतियां : डा. गौतम आम आदमी पार्टी जिला रूपनगर डाक्टर विग के प्रधान डा. संजीव गौतम ने कहा है कि नंगल में निर्माणाधीन फोरलेन फ्लाईओवर की देरी के लिए मौजूदा सरकार जिम्मेदार नहीं है। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्य के लिए अनिवार्य स्वीकृतियां निर्माण शुरू करने से पूर्व चार साल पहले ही ली जानी चाहिए थीं। लेकिन इस दिशा में गंभीरता नहीं दिखाई गई है। यही वजह है कि आज काम पूरा नहीं हो रहा है। नार्दन रेलवे ने लिखित रूप से अनिवार्य स्वीकृतियां अभी भी निर्माण कर रही कंपनी को नहीं दी हैं। यही वजह है कि काम रुका पड़ा है। उन्होंने कहा कि जब सरकार बनी थी तभी गांव बरारी के पास एक वैकल्पिक मार्ग सतलुज दरिया के ऊपर बनाया गया था। अब बरसात शुरू हो चुकी है। इसलिए वे रास्ता बंद हो चुका है। अब और कोई विकल्प नहीं है। ऐसे में फ्लाईओवर का निर्माण कर रही कंपनी को ही स्वीकृतियां प्राप्त करने की दिशा में गंभीरता दिखाते हुए कोशिश तेज करनी चाहिए।

Edited By: Jagran