संवाद सहयोगी, रूपनगर

गांधी मेमोरियल स्कूल में पंजाब राज्य पेंशनर महासंघ की अहम बैठक अवतार सिंह लोदीमाजरा व बीएस सैनी की संयुक्त अध्यक्षता में हुई, जिसमें पेंशनरों से जुड़ी मांगों पर गंभीरता से विचार किया गया। बैठक दौरान बीएस सैनी ने सबसे पहले बीती 27 सितंबर को पेंशनरों की मांगों को लेकर फगवाड़ा में पंजाब सरकार के खिलाफ की गई भूख हड़ताल में शामिल होने वालों का आभार व्यक्त किया। सैनी ने कहा कि महासंघ लंबे समय से पेंशनरों की मांगों को लेकर संघर्ष करता आ रहा है लेकिन सरकार ने मांगों के प्रति उदासीन रुख अपनाया हुआ है। सरकार कई बार मांगों को मंजूर करने के वादे कर चुकी है लेकिन हर बार अपने वादों से मुकर जाती है। सरकार के इस रवैये के खिलाफ अब जोन स्तरीय रैलियां करने का प्रोग्राम बनाया गया है, जिसके तहत 14 अक्टूबर को विधानसभा हलका मुल्लांपुर दाखा में होने वाले उप चुनाव दौरान पंजाब सरकार के खिलाफ जोनल रैली की जाएगी। इस दौरान उन्होंने पेंशनरों से जुड़ी मांगों का जिक्र कर चेतावनी दी कि अगर मांगों को मंजूर नहीं किया गया, तो जारी संघर्ष को उग्र रूप दिया जाएगा।

इससे पहले बैठक में शामिल सारे मेंबरों ने महासंघ के चेयरमैन दर्शन सिंह खेड़ी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया । इस दौरान अमरीक सिंह सहित गुरदेव सिंह, राम सरूप, इंजीनियर इकबाल सिंह, रछपाल सिंह सैनी, जगतार सिंह व गुरमुख सिंह आदि ने भी संबोधित किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!