संवाद सहयोगी, रूपनगर: रूपनगर के एक नामी कानवेंट स्कूल ने सरकारी नियमों व अदालती दिशा निर्देश को ताक पर रख नर्सरी से दसवीं कक्षा तक फीसें बढ़ा दी हैं। इसके विरोध में पिछले सप्ताह अभिभावकों ने स्कूल के समक्ष धरना देकर रोष जताया था। इसके बाद मौके पर पहुंचे एसआइ दानिशवीर सिंह ने दोनों पक्षों से बातचीत करते हुए दो दिन के भीतर समस्या का समाधान करवाने का भरोसा दिलाया था। अब इस मामले में कोई समाधान नहीं होता देख अब दोबारा अभिभावकों ने स्थानीय महाराजा रणजीत सिंह बाग में स्कूल मैनेजमेंट पर दबाव बनाने के लिए अपनी अगली रणनीति तैयार की है। अभिभावकों में सर्बजीत सिंह, नवजोत सिंह, गुरप्रीत सिंह, चरणजीत सिंह, गुरमुख सिंह आदि ने कहा कि फीस में सारे नियमों को ताक पर रख 1500 से 3300 रुपये तक बढ़ोतरी कर दी है। लाकडाउन के दौरान 4300 रुपये फीस थी, जिसके बाद फीस बढ़ाते हुए 6000 रुपये की गई, जो अब 9000 रुपये हो गई है, जो भिभावकों के साथ सीधा धक्का है। हैरानी तो इस बात की है कि स्पो‌र्ट्स एक्टिविटी तथा लैब तक बंद होने के बावजूद उसके फंड फीस में डाले जा रहे हैं। यदि फीस को 72 घंटे के अंदर कम नहीं किया गया, तो अभिभावक स्कूल मैनेजमेंट के साथ लघु सचिवालय का घेराव करेंगे। इस मौके सरपंच कटली कमल सिंह सहित हरीश सैनी, रश्नीत कौर, परमजीत कौर, प्रदीप कुमार, सुरिदर कौर, रीना, बलविदर सिंह, मनदीप कौर, मनप्रीत सिंह, दलीप सिंह, कुलविदर कौर, दीपक कुमार आदि विशेष रूप से हाजिर थे। वहीं इस बारे में स्कूल की प्रिसिपल सिस्टर आलीना ने कहा कि बच्चों से जो फीस ली जा रही हैं, वह सेशन 2018-19 की हैं। 2020-21 सेशन की केवल ट्यूशन फीस ही ले गई है। उनके स्कूल की अन्य स्कूलों की तुलना में फीसें पहले ही कम हैं।

Edited By: Jagran