सुभाष शर्मा, नंगल

दशकों से ट्रैफिक जाम का दंश झेलते आ रहे नंगल इलाके के लोगों को फोरलेन फ्लाईओवर कब नसीब होगा यह तो समय ही बताएगा लेकिन फिलहाल नंगल डैम के ऊपर से गुजरते राष्ट्रीय उच्च मार्ग की हालत दयनीय बन जाने से इलाका वासियों के साथ-साथ पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली आदि दूर गंतव्यों की ओर जाने वाले पर्यटकों व वाहन चालकों की परेशानी जरूर बढ़ गई है।

हैरानी की बात यह है कि इस दिशा में शून्य मात्र कार्रवाई भी अमल में न लाकर जिला प्रशासन कुंभकर्णी नींद में सो रहा है। गढ्डों की वजह से राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर गत शुक्रवार सायं करीब 7 बजे से लेकर 9 बजे तक ट्रैफिक जाम जैसी स्थिति बनी रही। गढ्डों के कारण लोडेड वाहन रेंग कर चलने के कारण यहा हर समय ट्रैफिक जाम के हालात पैदा हो चुके हैं। इन हालातों में लोग हैरान है कि आखिर इस विकट समस्या का समाधान करने की दिशा में जिला प्रशासन रुपनगर क्यों कार्रवाई नहीं कर रहा है।

बीओटी के कारण नहीं बन रहा है नेशनल हाईवे

बीओटी (टोल रोड) मार्ग होने के कारण यहा अभी तक केंद्रीय राजमार्ग मंत्रालय ने नेशनल हाईवे एक्सटेंशन 503 को फोरलेन बनाने की कोशिश शुरू नहीं की है। आनंदपुर साहिब से मैहतपुर तक के सिंगल रोड पर जहा ट्रैफिक के हालात खराब हो चुके हैं वहीं इस मार्ग पर बरकरार हादसों में वाहन चालक दम तोड़ रहे हैं। इसके अलावा समय की बर्बादी तथा ट्रैफिक जाम के कारण पेट्रोल डीजल के भारी नुकसान का क्रम भी बरकरार है। नंगल डैम के ऊपर से गुजरते मार्ग को बार-बार आग्रह करने के बावजूद भी टोल टैक्स वसूल रही कंपनी के सुपुर्द किए जाने की दिशा में जिला प्रशासन निष्कि्त्रय बना हुआ है। यदि इस मार्ग का मरम्मत कार्य टोल प्लाजा कंपनी को दिया जाए तो निश्चित रुप से लोगों की मुसीबतें काफी कम हो सकती हैं।

एक साथ बंद होते हैं पांच फाटक

डैम के ऊपर से गुजरते मार्ग से होकर ही हिमाचल के अधिकाश रोगी वाहन यहा से गुजरते हैं। इसके अलावा दूर प्रातों से हिमाचल की तरफ आने जाने वाले पर्यटक व श्रद्धालु यहा से होकर गुजरते हैं। इस मार्ग के रास्ते व साथ आकर मिलती अन्य सड़कों पर उत्तर रेलवे के 5 रेलवे फाटक हैं जो दिन में करीब 20 बार एक साथ बंद होने से ट्रैफिक जाम की समस्या में इजाफा कर रहे हैं।

कोट्स

चुनावों के बाद करेंगे प्रयास

नंगल डैम से गुजरते मार्ग पर ट्रैफिक जाम मार्ग की स्थिति मेरे ध्यान में है। मैं समस्या समझता हूं, लेकिन मेरे हाथ में कुछ नहीं है। बीएंडआर व अन्य विभागों को रोड ठीक करने के बारे कहा गया है। अब कुछ दिन बाद चुनाव हो जाने के उपरात ही इस दिशा में कार्रवाई शुरू करवाई जाएगी।

Posted By: Jagran