संवाद सहयोगी, नूरपुरबेदी

नूरपुरबेदी क्षेत्र के साथ लगती शिवालिक की पहाड़ियों में खैर माफिया ने अपने पैर पसार लिए हैं। खैर माफिया क्षेत्र के कई गांवों के जंगलों में से खैर के वृक्षों की गैरकानूनी कटाई कर रहा है। इस संबंध ब्लॉक के अलग-अलग गांवों के लोगों ने बताया कि उनके गांवों के साथ लगते जंगलों में से खैर के वृक्षों की अवैध कटाई की जा रही है। जानकारी के अनुसार नूरपुरबेदी ब्लॉक के गांव करतारपुर, ह्यातपुर नूरपुर खुर्द अपर सहित अन्य गांवों के साथ लगते जंगलों में खैर के वृक्षों को अवैध रूप से काटा गया है। गांव करतारपुर वासी लालचंद ने बताया कि नूरपुरबेदी-भद्दी रोड के साथ लगते जंगलों में से बड़े स्तर पर खैर के वृक्षों को अवैध रूप से काटा गया है। खैर माफिया की ओर से रात के अंधेरे में इन जंगलों में अलग-अलग स्थानों से खैर के वृक्ष काटकर रात में ही लकड़ी को जंगल में से बाहर ठिकाने लगा दिया जाता है। उन्होंने पंजाब सरकार से इस मामले में उच्च स्तरीय जांच करवाने की मांग की है। वहीं अलग- अलग जंगलों में खैर के कटे हुए पेड़ों के तने देखे जा सकते हैं। नूरपुरबेदी ब्लॉक के गांवों में वन विभाग की मंजूरी लिए बिना जंगलों में से खैर के वृक्षों की अवैध कटाई होना क्षेत्रवासियों में चर्चा का विषय बना हुआ है। मामले की जांच करवाई जाएगी रूपनगर के डीएफओ अमित चौहान ने कहा कि नूरपुरबेदी अवैध खैर कटाई का मामला उनके ध्यान में आया है और वह इस मामले की जांच करवाएंगे।

Posted By: Jagran