संवाद सूत्र, चमकौर साहिब

महापुरुष सचखंड निवासी संत बाबा करतार सिंह और संत बाबा सरदूल सिंह की याद को समर्पित भैरोमाजरा के गुरुद्वारा श्री दसमेशगढ़ साहिब में चल रहे तीन दिवसीय गुरमति समागम में संगत ने माथा टेका। श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की छत्र छाया और संत बाबा अमर सिंह भैरोमाजरा वालों के प्रबंधों में करवाए इस समागम के अंतिम दिन श्री अखंड पाठ साहिब के भोग डाले गए। इसके उपरांत खुले पंडाल में सजाए कीर्तन दरबार में सिख कौम के प्रचारक सतिदरवीर सिंह हजूरी रागी श्री दरबार साहिब श्री अमृतसर साहिब,सुखविदर सिंह व हरी सिंह नालागढ़ वालों ने कथा कीर्तन और गुरमति विचारों के साथ संगत को निहाल किया। इस मौके गुरुद्वारा साहिब के प्रबंधकों ने रूपनगर, चमकौर साहिब, बेला और आसपास की संगत के लिए यहां आने के लिए मुफ्त बसों का प्रावधान किया था। संगत की सुविधा के लिए गांव भोजेमाजरा, चमकौर साहिब सरहिद के पुल के पास, जगतपुर और भैरोमाजरा में कई प्रकार के लंगर लगाए हुए थे। जिला प्रशासन ने भी सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए हुए थे। समागम के दौरान भाई गुरमुख सिंह लौंगिया ने स्टेज सचिव की भूमिका अदा की गई। समागम में संत बाबा अमर सिंह भैरोमाजरा, संत बाबा अवतार सिंह टिब्बी साहिब रूपनगर वाले, जत्थेदार बाबा सुखपाल सिंह, सज्जन सिंह, पूर्व विधायक भाग सिंह, हलका इंचार्ज हरमोहन सिंह संधू, वाइस चेयरमैन शमशेर सिंह भोजेमाजरा व परमजीत सिंह गिल भी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!