जागरण संवाददाता, रूपनगर: आने वाले विधानसभा चुनाव में एक बार फिर कांग्रेस नेताओं ने हलके में से ही स्थानीय को टिकट देने की मांग की है। रूपनगर प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत में नगर सुधार सभा के चेयरमैन सुखविदर सिंह विस्की ने कहा कि पिछले विधानसभा चुनावों में पार्टी की रूपनगर विधानसभा क्षेत्र में बुरी तरह हार का कारण बाहरी उम्मीदवार ही था। इस मसले को लेकर स्थानीय नेता कांग्रेस के प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू के समक्ष बरिदर सिंह ढिल्लों की हाजिरी में भी ये कह चुके हैं कि स्थानीय को ही टिकट दी जाए। विस्की ने कहा कि बड़ अफसोस की बात है कि 2017 में विधानसभा चुनाव में हलके के कांग्रेस उम्मीदवार को 25 हजार के करीब वोट पड़ी थी, जबकि उस समय कांग्रस की हवा थी। यहां आम आदमी पार्टी को जीत मिली थी, जबकि आनंदपुर साहिब व चमकौर साहिब में कांग्रेस की फतेह हुई थी और इन दोनों हलकों में विकास भी हो रहा है। इसलिए हलके का विधायक हलके का ही निवासी होना चाहिए। विस्की ने कहा कि डा. दलजीत सिंह चीमा की अगुवाई में अकाली दल ने नगर कौंसिल चुनाव में बहुमत हासिल किया था, लेकिन उनकी पार्टी विधानसभा में तीसरे नंबर पर पहुंच गई। यदि बरिदर सिंह ढिल्लों को टिकट दे दी जाती है, तो स्थिति डा.चीमा वाली ही होगी। यह लोगों की आवाज है। सुखविदर सिंह विस्की ने कहा कि हमें पूर्ण उम्मीद है कि पार्टी हलक के लोगों और कांग्रेस नेताओं की भावनाओं की कद्र जरूर करेगी। उम्मीदवार का सभी देंगे साथ: विस्की बैठक के दौरान नगर सुधार सभा के चेयरमैन सुखविदर सिंह विस्की ने कहा कि जो नेता आज की प्रेस कांफ्रेंस में हाजिर हैं, वह बारी उम्मीदवार के विरोध और स्थानीय उम्मीदवार के लिए एकजुट हैं। पार्टी हाईकमान यदि स्थानीय किसी भी नेता को टिकट देती है, तो, सभी उसके साथ हैं। इस मौके पर कांग्रेस के जिला प्रधान अमरजीत सिंह सैनी, जट्ट महासभा के जिला प्रधान जैलदार सतविदर सिंह चैड़ियां, ओबीसी अयोग के वइस चेयरमैन गुरिदरपाल सिंह विल्ला, पार्षद पोमी सोनी , जिला यूथ कांग्रेस के प्रधान सुरिदर सिंह हरीपुर, अश्वनी शर्मा नूरपुरबेदी, नगर कौंसिल के पूर्व प्रधान अशोक वाही, मार्केट कमेटी के पूर्व चेयरमैन स्वतंत्र कौशल, पार्षद अमरिदर सिंह रीहल, जगदीश काजला, सतिदर नागी बिट्टू, शिव दयाल व सुभाष चौधरी भी मौजूद थे।

Edited By: Jagran