जागरण संवाददाता, रूपनगर

पंजाब डेयरी फार्मिंग संस्था के नुमाइंदों के साथ स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा रही छापामारी को लेकर डेयरी मालिकों में असंतोष है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा रही छापामारी के दौरान सैंपल लेने के बाद सामान को नष्ट करने की प्रक्रिया का भी पंजाब प्राइवेट डेयरी एसोसिएशन विरोध कर रही है। एसोसिएशन का कहना है कि सैंप¨लग होनी चाहिए तथा रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई होनी चाहिए, लेकिन यहां तो डेयरी वालों को बेइज्जत किया जा रहा है। पंजाब प्राइवेट डेयरी एसोसिएशन व रूपनगर डेयरी यूनियन द्वारा की गई प्रेस काफ्रेंस में रूपनगर डेयरी यूनियन के अध्यक्ष अमरजीत ¨सह जौली ने कहा कि इन दिनों सेहत विभाग की ओर से की जा रही कार्रवाइयों के सैंपल भरकर उसकी रिपोर्ट आने का इंतजार नहीं किया जा रहा है। मौके पर ही कार्रवाई कर सामान तक को फेंक दिया जाता है। विभाग सैंपल भरने के बाद गलत रिपोर्ट आने पर अगर कोई कार्रवाई करता है तो वह उसके खिलाफ नहीं है। उन्होंने कहा कि वह सरकार को सहयोग दे रहे हैं तथा वह भी चाहते हैं कि मिलावट करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई हो, पर हर किसी को गलत ठहरा कर मौके पर ही कार्रवाई करना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि कुछ अधिकारी डेयरी का काम करने वाले लोगों को नाजायज परेशान कर रहे हैं। सैंपल भरने वाले अधिकारी मौके पर पनीर व दूध को नकली बता देते हैं। उन्होंने कहा कि वह सारा खाने योग्य सामान तैयार करके बेचते हैं लेकिन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी इन दिनों में ही कार्रवाइयां करते हैं। गुरप्रीत ¨सह गिल ने कहा कि सरकार स्वरोजगार को खत्म करने पर तुली हुई है। उन्होंने कहा कि सरकार सरकारी संस्थानों को उत्साहित कर रही है, जबकि स्मॉल स्केल इंडस्ट्री को खत्म किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार सैंप¨लग करे लेकिन उसकी रिपोर्ट आने से पहले उन्हें बेइज्जत न किया जाए।

मिलावटखोर पकड़वाने में देंगे सहयोग

उन्होंने कहा कि वह सरकारी संस्थानों से अच्छा सामान तैयार कर रहे हैं पर सरकार अगर चाहती है कि प्राइवेट संस्थानों को बंद किया जाए तो वह इसे बंद करने के लिए भी तैयार हैं। लेकिन बेइज्जती सहन करने योग्य नहीं है, वो मिलावटखोरों को पकड़वाने और सरकार को सहयोग देने के लिए तैयार हैं। पशु पालन मंत्री बलबीर ¨सह सिद्धू से मुलाकात पंजाब प्राइवेट डेयरी एसोसिएशन का प्रतिनिधिमंडल पंजाब कांग्रेस के प्रवक्ता ब¨रदर ¨सह ढिल्लों की अगुवाई में पंजाब के पशु पालन मंत्री बलबीर ¨सह सिद्धू तथा एसएफडीए के मुखी आईएएस काहन ¨सह पन्नू को मिले। उन्हें अपनी समस्यायों सबंधी अवगत करवाया है। अमरजीत ¨सह जौली ने बताया कि कैबनिट मंत्री बलबीर ¨सह सिद्दू ने कहा है कि सैंपल की मौके पर ही रिपोर्ट मिले, इसका प्रबंध किया जा रहा है। उन्होंने विश्वास दिलाया कि डेयरी मालिकों को बिना वजह परेशान करने पर सख्त एक्शन लिया जाएगा। वहीं, आइएएस अधिकारी काहन ¨सह पन्नू ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की चे¨कग बिलकुल पारदर्शी हो, इसको यकीनी बनाया जाएगा।

Posted By: Jagran