संवाद सहयोगी, नूरपुरबेदी

गांव सरथली में रूपनगर के केबल ऑपरेटरों ने काम के दौरान उनके साथ स्थानीय केबल ऑपरेटरों की ओर से मारपीट करने व उनपर लूटपाट के आरोप लगाए थे। दूसरे पक्ष के लोगों ने इसे झूठ और बेबुनियाद बताया है। गौरतलब है कि हितेष सैनी पुत्र गोपाल किशन सैनी वासी रूपनगर ने डीजीपी को भेजी शिकायत में आरोप लगाया था कि 10 दिसंबर को कार्य दौरान कुछ व्यक्तियों ने उस पर जानलेवा हमला करके उसके मोटरसाइकिल और 40 हजार रुपये छीन कर फरार हो गए थे। पुलिस ने इस संबंधी कोई कार्रवाई नहीं की। दूसरे पक्ष में शामिल द¨वदर ¨सह, राम कुमार और विकास भारद्वाज ने बताया कि उक्त व्यक्ति गांव सरथली में कार्य कर रहा था एवं वह भी वहीं कार्य कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने उक्त व्यक्ति से मार्च 2016 से उसकी कंपनी के पास रहते करीब 15 हजार रुपये देने के लिए निवेदन किया। इस दौरान उसने कहा कि मेरा मोटरसाइकिल ले जाओ और वह पैसे देकर अपना मोटरसाइकिल ले जाएगा, लेकिन 13 दिसंबर को पुलिस स्टेशन नूरपुरबेदी में हितेष सैनी ने मोटर साईकिल छीनने, 40 हजार रुपये की नकदी लूटने और हमला करने संबंधी झूठी शिकायत दर्ज करवा दी। जब थाना प्रभारी से यह पता चला तो उन्होंने शिकायतकर्ता द्वारा स्वयं मोटरसाइकिल देने की बात बताई। साथ ही व्यक्ति का मोटरसाइकिल भी उसी समय थाने में खड़ा कर दिया। उन्होंने कहा कि शिकायत की जांच नूरपुरबेदी पुलिस द्वारा मौके पर पहुंच कर की गई। इस संबंधी बकायदा गांव सरथली के गणमान्य व्यक्तियों ने जांच कर रहे डीएसपी आनंदपुर साहिब के पास भी अपने बयान दर्ज करवाए हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!