जागरण संवाददाता, रूपनगर :

ठेका कर्मचारी संघर्ष मोर्चा पंजाब के आह्वान पर रूपनगर में जल सप्लाई और सैनिटेशन कांट्रेक्ट वर्कर्स यूनियन ने महाराजा रणजीत सिंह बाग में एकत्रित होकर मान सरकार द्वारा पारित बजट के खिलाफ नारेबाजी की, इसके बाद डीसी कांप्लेक्स तक रोष मार्च करके बजट की कापियां फूंकी।

इस मौके पर नेता सतनाम सिंह, वरिदर सिंह भरतगढ़ ने बताया कि मान सरकार द्वारा चुनाव से पहले समूह कच्चे कर्मचारियों को नियमित करने का वादा किया या था, जिनकी कुल संख्या डेढ़ लाख के करीब है, लेकिन अब अपने इस वादे से भागने और लोगों की आंखों में धूल झोंकने के लिए बादल, कैप्टन, चन्नी की तरह ही 36000 का आंकड़ा पेश करके इनको भी लटकाने के लिए पिछली सरकारों की तर्ज पर एक तीन सदस्यी कमेटी बनाने का एलान कर दिया गया है। जिसका मोर्चा लगातार विरोध करता आ रहा है और भविष्य में भी करेगा। क्योंकि यह कमेटियां बनाने का मतलब ही कच्चे कर्मचारियों को रेगुलर करने से भागना और पूंजीपतियों की चाकरी करके निजीकरण की नीतियों को लागू करना है। मोर्चा नेताओं ने पंजाब सरकार से अपील की कि समूह विभागों में काम करते ठेका, आउटसोर्सड, इंलिस्टमेंट, सोसायटी, ब्लड बैंक, केंद्रीय स्कीम, एडहाक, लगभग डेढ़ लाख कच्चे कर्मचारियों को जल्द से जल्द बिना शर्त उनके पैतृक विभागों में रेगुलर किया जाए। अगर सरकार अपने किए हुए वादे से भागने की कोशिश करती है तो संघर्ष को तेज करना मोर्चा की मजबूरी होगी।

इस मौके पर रवि मसीह, जसमिदर सिंह लाडी, सुदेश कुमार, रणजीत सिंह, गुरप्रीत सिंह, दलवीर सिंह, कुलवीर सिंह, गुरप्रीत सिंह मोरिडा, तरनजीत सिंह उपस्थित थे।

Edited By: Jagran