संवाद सूत्र, मो¨रडा

पिछले कई दिनों से लापता शराब कारोबारी रा¨जदर ¨सह की संदिग्ध परिस्थितियों में गुमशुदगी ने नया मोड़ ले लिया है। उसके साले ने ही अपने साथियों के साथ मिलकर अपने जीजा का कत्ल कर उसके शव को नहर में फेंक दिया है। साले को अपने जीजा पर इस बात का गुस्सा था कि वो उसकी बहन करमजीत कौर से झगड़ा करता था तथा वो इस वजह से उससे गुस्से था। एसपी इन्वेस्टिगेशन) रूपनगर बल¨वदर ¨सह रंधावा ने बताया कि ज्ञान ¨सह पुत्र ईशर ¨सह वासी गांव माजरी थाना लुठेड़ी ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसका लड़का रा¨जदर ¨सह शराब कारोबारी था तथा उसका विवाह वर्ष 1990 में करमजीत कौर पुत्र गुलजार ¨सह वासी गांव बहरामपुर जिमीदारा थाना ¨सह भगवंतपुर के साथ हुआ था। उसने बताया कि उसका एक 17 वर्षीय पौत्र गुरसिमरन ¨सह तथा 18 वर्षीय पौत्री हरसिमरन कौर हैं। रा¨जदर ¨सह तथा उसकी बहु करमजीत कौर का आपस में झगड़ा होता रहता था, जिसके कारण चार माह से उसकी बहु करमजीत कौर अपने माता-पिता के घर बहरामपुर जिमींदारा में रह रही थी। उसकी पौत्री हरसिमरन कौर एक माह से अपने पिता के साथ रहती थी तथा 23 जुलाई को हरसिमरन कौर ने फोन पर बताया कि उसके पिता रा¨जदर ¨सह रात को करीब 1.30 बजे कहीं चले गए हैं जोकि वापस नहीं आए। रा¨जदर ¨सह की स्विफ्ट कार सुबह गांव रौणी की भाखड़ा नहर के पुल से संदिग्ध परिस्थितियों में मिली थी, जिसके उपरांत उन्होंने अपने रिश्तेदारों को साथ लेकर भाखड़ा नहर की झीलों पर रा¨जदर ¨सह की तलाश की तथा करीब डेढ़ सप्ताह के बाद भी रा¨जदर ¨सह का कोई सुराग नहीं मिला। जिसके ज्ञान ¨सह द्वारा एक शिकायत एसएसपी रूपनगर द्वारा इस मामले की जांच सीआइए स्टाफ-02 को सौंपी गई। गला दबाकर कर दी थी जीजा की हत्या इसके बाद डीएसपी नवरीत ¨सह विरक, प्रोबेशनर मनजोत कौर, सिटी थाना प्रमुख अमनदीप ¨सह तथा इंचार्ज सीआइए स्टाफ-2 रूपनगर के इंस्पेक्टर अमरवीर ¨सह द्वारा ते¨जदर ¨सह उर्फ मंत्री को इस मामले में गिरफ्तार किया गया तथा उससे पूछताछ में बात सामने आई कि ते¨जदर ¨सह उर्फ मंत्री पुत्र गुलजार ¨सह वासी गांव बहरामपुर जिमीदारा थाना भगवंतपुर जिला रूपनगर ने अपने साथी पाला खान तथा भांजे के साथ मिलकर रा¨जदर ¨सह का गला दबाकर शव को पथरेड़ी जट्टां के निकट भाखड़ा नहर में फेंक दिया। उन्होंने बताया कि अभी पूछताछ जारी है तथा अन्य खुलासे होने की उम्मीद है। ज्ञान ¨सह द्वारा मो¨रडा पुलिस को दिए बयानों के आधार पर आरोपित ते¨जदर ¨सह उर्फ मंत्री के खिलाफ 302, 201 आइपीसी की धारा लगाकर मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है।

Posted By: Jagran