संवाद सूत्र, मोरिडा

मोरिडा चर्च के एक बिशप ने खुद पवित्र बाइबल की बेअदबी कर पुलिस को अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ बेअदबी की शिकायत दे दी, पर वह पकड़ा गया। डीएसपी चमकौर साहिब सुखजीत सिंह विर्क ने बताया कि बिशप सोहन लाल पुत्र रत्नपाल निवासी मोहल्ला वाल्मीकि वार्ड नंबर दस मोरिडा ने पुलिस को शिकायत दी कि वह सीनियर बिशप के पद पर काम कर चर्च में पादरियों की नियुक्तियां करता है। उसने कहा कि वह 12 दिसंबर को चर्च हाउस ऑफ विक्टरी वार्ड नंबर नौ मोहल्ला संत नगर मोरिडा गया, तो वहां पर देखा कि चर्च के गेट का ताला टूटा हुआ था और अंदर कमरे में पवित्र बाइबल भी जमीन पर गिरा था। इसके बाद पुलिस ने चर्च के साथ लगते एक घर में सीसीटीवी कैमरे की फुटेज देखी, जिसमें सिर्फ पादरी सोहन लाल की कार दिखाई दी। इस पर पुलिस ने शक के आधार पर बिशप से पूछताछ की, तो उसने अपना अपराध कबूल कर लिया। एसएचओ मोरिडा सुनील कुमार ने बताया कि सोहन लाल ने यह चर्च अपने खर्च पर बनाई है। उसकी किसी अमरीक सिंह नाम के परिवार के साथ रंजिश चल रही है। उसने उस परिवार को बदनाम करने के लिए ही यह सारी कहानी रची, पर वह पकड़ा गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!