जागरण संवाददाता, नंगल : दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान की ओर से नंगल में जारी शिव कथा कार्यक्रम के चौथे दिन भी भक्तों का अध्यात्मिक मार्गदर्शन किया गया। श्री आशुतोष महाराज की शिष्या साध्वी सुश्री सौम्या भारती ने शिव महिमा का गुणगान करते हुए कहा कि देवों के देव महादेव त्याग के प्रतीक हैं। ऐसे में समाज के सभी लोगों को त्याग की भावना मन में लिए जीवन यापन करते हुए समाज के लिए प्रेरणादायक मिसाल बनना चाहिए। उन्होंने कहा कि धार्मिक आयोजन का मकसद भी यही है कि सभी लोगों को धर्म मार्ग से जोड़कर बताया जाए कि भगवान शंकर कैसे व किन लोगों पर अपनी कृपा दृष्टि बनाए रखते हैं। रोज की तरह मंत्रोच्चारण के बीच ज्योति प्रज्वलित करने के लिए विशेष रूप से उपस्थित हुए सोशल वर्कर अनिल अग्रवाल तथा नंगल नगर कौंसिल के प्रधान संजय साहनी सहित अन्य पार्षदों ने भी विद्वान पंडितों व साध्वी उत्तम भारती के साथ पूजा अर्चना करते हुए भगवान शंकर का गुणगान किया।

इस कार्यक्रम में नगर कौंसिल की वरिष्ठ उप प्रधान अनीता शर्मा, पार्षद सुरेंद्र पम्मा, दीपक नंदा, सुनील शर्मा काका, विद्यासागर, सोनिया सैनी, वीना ऐरी, इंदू बाला, सरोज, कांगड़ा वेलफेयर सोसायटी के प्रधान सोहन लाल शर्मा, युद्धवीर परमार, डा. उमा दत्त पाठक, एडवोकेट पवन कौशल, नंद किशोर शर्मा, नरेश शर्मा, तरसेम मट्टू, राजेश भुक्खड़, योगाचार्य आरएस राणा, चंद्रमोहन घई आदि सहित बड़ी संख्या में भक्तजनों ने शामिल होकर भगवान शंकर की कथा सुनी।

Edited By: Jagran