जागरण संवाददाता, रूपनगर

पंजाब स्टेट मिनिस्ट्रियल सर्विस यूनियन पंजाब यूनिट रूपनगर के दफ्तरी कर्मचारियों की हड़ताल दूसरे दिन वीरवार को भी जारी रही। इस संबंधी जिला प्रधान पंजाब स्टेट मिनिस्ट्रियल सर्विस यूनियन रूपनगर कृष्ण कुमार ने बताया कि पंजाब सरकार के दफ्तरी कर्मचारियों में पंजाब सरकार के खिलाफ लंबे समय से मांगें पूरी न होने के करण रोष पाया जा रहा है, जिले के समूह कर्मचारियों ने दूसरे दिन भी दफ्तरी कामकाज ठप रख कर सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की तथा सरकारी दफ्तर बंद करवाए। इस रैली में अलग अलग विभागों से शामिल हुए कर्मचारियों ने आपने आपने विचार रखे और सरकार से अपनी जायज मांगों पूरी न होने के कारण सरकार के खिलाफ कड़ा संघर्ष करने की चेतावनी दी तथा कर्मचारियों ने पंजाब सरकार पर सौतेला व्यवहार करने के आरोप भी लगाए। विभिन्न विभागों के ओहदेदारों ने कर्मचारियों को संबोधन करते हुए सरकार पर यह आरोप भी लगाए कि सरकार अपने किए हुए वादों से मुकर रही है। उन्होंने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार उन की जायज मांगों को लागू करके आपने वादे को पूरा करे। कर्मचारियों की मुख्य मांगों में नई भर्ती के समय 15 जनवरी 2015 का प्राथमिक वेतन देने का फैसला वापस लेना, साल 2004 के बाद भर्ती हुए कर्मचारियों को पेंशन स्कीम के घेरे में लाना, छठा पे-कमीशन लागू करना, एसीपी स्कीम के अंतर्गत हायर पे-सकेल, कच्चे कर्मचारियों को पक्का करना आदि शामिल हैं। यदि सरकार ने उनकी मांगों को तुरंत लागू नहीं किया तो 17 फरवरी तक पंजाब सरकार के सभी डीसी दफ्तरों सहित पंजाब सरकार के समूह दफ्तरों में पूर्ण कलमछोड़ हड़ताल की जाएगी और सरकारी दफ्तरों को तालाबंदी करके सरकार के खिलाफ धरने जारी रखे जाएंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!