सुभाष शर्मा, नंगल : कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए लगाए गए क‌र्फ्यू के चलते नंगल शहर में चारों तरफ सड़कें सुनसान हैं। मुस्तैद पुलिस की नाकाबंदी के दौरान केवल पुलिस की गाड़ियों के हूटर ही सुनाई दे रहे हैं। उधर नंगल सब-डिवीजन के लिए लंबे समय बाद खाली पद पर हुई नियुक्ति के चलते एसडीएम हरप्रीत सिंह अटवाल ने पदभार संभाल लिया है। मंगलवार को बारिश के चलते सबडिविजन कार्यालय में लोगों तक राहत प्रदान करने का कार्य शुरू नहीं हो पाया था। इस वजह से आज बुधवार को डोर टू डोर राशन तथा दवाइयों की सप्लाई पहुंचाने की तय की गई व्यवस्था पर भी दोपहर बाद तक पूरी तरह से काम शुरू नहीं हो पाया है। हेल्पलाइन नंबर भी जनता के लिए निराशा का कारण बने हुए हैं, क्योंकि राहत के लिए बनाई गई व्यवस्था तथा सप्लाई के लिए नियुक्त किए गए सप्लायरों की संख्या नाकाफी है। उनके लिए जरूरी पास नहीं बन रहे हैं। दिन भर सबडिवीजन परिसर में सप्लाई के लिए चयनित किए गए दुकानदार अपने पहचान पत्र व ड्यूटी पास बनाने के लिए जद्दोजहद करते रहे, लेकिन अभी भी प्रशासन की ओर से पहचान पत्र बनाने का कार्य लगभग 50 फीसदी ही पूरा हो सका है। बुधवार को सुबह जरूरतें पूरी करने के लिए लोग दूध व राशन जैसी वस्तुएं छुपते छुपाते प्राप्त करने के लिए इधर-उधर भटकते देखे गए।

मछली, दूध व दही के जमा भंडार खराब होने के कगार पर

प्रशासन की अनुमति न मिलने के कारण शहर में मछली, दूध, पनीर वही के भंडार जमा हो चुके हैं। सब्जी मंडी में पड़ी सब्जिया भी खराब होने के कगार पर है। सब्जी मंडी के व्यापारियों संदीप मित्तल, राज कुमार बजाज व राजीव वर्मा ने कहा कि यदि उन्हें प्रशासन बिना देर किए अनुमति प्रदान कर दे तो एडवाइजरी की पालना करते हुए वे शहर में जरूरी वस्तुएं वस्तुएं बाजीव व तय रेटों पर शहर वासियों तक पहुंचा सकते हैं। मछली के बड़े सप्लायर बवनदीप सिंह कोहली ने बताया कि उनके यहा गोदाम में करीब दो क्विंटल से अधिक मछली जमा पड़ी है। मछली के वितरण की अनुमति नहीं मिल रही है। मछली फ्री में वितरित करने के लिए वे तैयार हैं। सांय पांच बजे तक मछली के वितरण की इजाजत नहीं मिल पाई है। तय नंबरों पर फोन नहीं उठा रहे दुकानदार

स्टेट एलोकेटिड इंप्लाइज यूनियन के सेक्रेटरी जनरल मदन गोपाल कौशल ने कहा है कि दवाइयों की डोर टू डोर सप्लाई की व्यवस्था पूरी तरह से फेल है। लोग मरीजों के लिए दवाइयां प्राप्त करने के लिए परेशान हो चुके हैं। वहीं बीबीएमबी के एपीआरओ संजीव शर्मा ने कहा है कि राशन के लिए तय की गई व्यवस्था संतोषजनक नहीं है। तय नंबरों पर दर्शाए गए दुकानदार फोन नहीं उठा रहे हैं।

एसडीएम ने मांगा लोगों से सहयोग

एसडीएम हरप्रीत सिंह अटवाल ने कहा है कि नंगल प्रशासन डोर टू डोर सप्लाई को सुनिश्चित बनाने का प्रयास कर रहा है। बुधवार शाम तक अनिवार्य वस्तुओं का वितरण सामान्य हो जाएगा, कई जगहों पर अनिवार्य चीजों की सप्लाई शुरू करवाई जा चुकी है। उन्होंने लोगों से सहयोग की अपील करते हुए कहा है कि व्यवस्थित ढंग से सभी कार्य पूरे करने की दिशा में प्रयास जारी हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!