जागरण संवाददाता, नंगल : नंगल शहर में क‌र्फ्यू जारी है। पुलिस की सख्ती कारण आज मंगलवार को शहर में हिमाचल सीमा से सटे सभी प्रवेश द्वार सील रहे वहीं शहर के अंदर भी सड़क मार्गो पर सन्नाटा पसरा रहा। घरों में बंद लोग अब खत्म होते जा रहे जरूरी समान को प्राप्त करने के लिए उत्सुकता से प्रशासनिक एडवाइजरी की प्रतीक्षा कर रहे हैं। अभी तक यह तय नहीं किया गया है कि लोगों को खाने-पीने का जरूरी सामान किस व्यवस्था के साथ प्राप्त होगा। शाम पांच बजे तक सब-डिवीजन ऑफिस नंगल में व्यवस्था तैयार नहीं हो सकी है कि किन दुकानों पर दवाइया व राशन जैसा सम्मान मिलना है। लिस्ट तो तैयार हो चुकी है, लेकिन अभी तक समान वितरण करने वाले दवा विक्रेताओं व किराना दुकानदारों का वेरिफिकेशन न हो पाने के कारण उन्हें अनुमति पत्र नहीं मिल सके हैं। सप्लाई के लिए बनाई सूची में आए एक डिपो होल्डर ने बताया कि अभी तक उन्हें अधिकार पत्र जारी नहीं हो सके हैं। इस वजह से वह डोर टू डोर राशन की सप्लाई शुरू नहीं कर पा रहे हैं। शहर के लोगों नानक सिंह बेदी, एडवोकेट राकेश मार्कन, सुरेश प्रभाकर, प्रमोद पुरी, सुरेंद्र गुप्ता, राकेश मैहता, भूषण भल्ला, विनोद पराशर आदि ने माग उठाई है कि अब धैर्य से घरों में बैठकर क‌र्फ्यू को सहयोग दे रहे लोगों को दूध सब्जी व आहार जैसी जरूरी सामग्री उपलब्ध करवाने के लिए जल्द तैयार व्यवस्था पर काम शुरू किया जाए।

स्पोर्ट परमोटर एवं जिम कोच सुरेंद्र पाल सोनू ने मांग उठाई है कि उनके जी ब्लाक क्षेत्र का वार्ड सैनिटाइज करवाया जाए या फिर इस सेवा के लिए तैयार लोगों को एडवाइजरी के मुताबिक अनुमति दी जाए कि वे खुद अपने साधनों से वार्ड को सैनिटाइज कर सकें। अभी तक इस वार्ड नंबर 18 को सैनिटाइज नहीं किया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!