संवाद सूत्र, मोरिडा: किसानों के गन्ने की बकाया 23 करोड़ राशि जारी करवाने समेत अन्य मांगों को लेकर मोरिडा के किसान में सड़कों पर उतर आए हैं। मंगलवार को किसानों ने शुगर मिल मोरिडा के एमडी दफ्तर के बाहर एक घंटा प्रदर्शन किया। बात न बनते देख प्रदर्शनकारी मोरिडा मिल के बाहर रूपनगर-मोरिडा मार्ग पर ट्रैफिक जाम करके बैठ गए। प्रदर्शनकारियों ने दोनों तरफ ट्रैक्टर व ट्रॉलियां लगाकर रोड को बंद कर दिया। इस दौरान भारतीय किसान यूनियन लक्खोवाल के महासचिव पंजाब हरिदर सिंह ने कहा कि वर्ष 2018-19 सीजन के गन्ने की बकाया राशि 23 करोड़ रुपये सरकार शुगर मिल प्रबंधकों से किसानों को जारी करवाए या खुद दे। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर किसानों की राशि जल्द जारी न की, तो बड़ी संख्या में किसान 31 मार्च को राज्य स्तरीय संघर्ष करेंगे। वहीं करीब एक घंटा चले ट्रैफिक जाम के दौरान आम लोग परेशान होते रहे। प्रशासन व पुलिस मौके पर हालात को काबू में रखने के लिए तैनात रही। ट्रैफिक पुलिस ने रूट तो डायवर्ट किए, फिर भी राहगीर परेशान होते रहे। भारतीय किसान यूनियन लक्खोवाल की अगुआई में तीन जिलों फतेहगढ़ साहिब, मोहाली और रूपनगर के किसानों ने शुगर मिल मोरिडा के गेट आगे पंजाब सरकार के खिलाफ भड़ास निकाली। इसके बाद एसडीएम हरबंस सिंह और तहसीलदार अमनदीप चावला ने किसानों को दिया मांगपत्र भी लिया जिसके बाद प्रदर्शनकारी शांत हुए।

पराली जलाने वाले किसानों पर दर्ज पर्चे किए जाएं रद वहीं भारतीय किसान यूनियन लक्खोवाल जिला रूपनगर के प्रधान चरन सिंह मुंडियां ने कहा कि पराली जलाने वाले किसानों पर दर्ज पर्चे रद करके उनसे जुर्माने के रूप में वसूल की गई राशि भी वापस की जाए। इस मौके जिला मोहाली के प्रधान दविदर सिंह देह कला ने पंजाब सरकार से मांग की कि गांवों में बेसहारा पशु किसानों की फसल उजाड़ रहे हैं, इसका सरकार को पुख्ता प्रबंध करना चाहिए। जिला फतेहगढ़ साहिब के प्रधान हरमेल सिंह भट्टी ने कहा कि कहा कि आज का किसान बिजली के रेटों और महंगाई के कारण आर्थिक कमजोर हो चुका है। इसलिए बढ़ी हुई दरों को भी वापस लिया जाए। इस मौके शुगर मिल मोरिडा के चेयरमैन खुशहाल सिंह दतारपुर, ब्लॉक प्रधान दलजीत सिंह चलाक, प्रेस सचिव नंबरदार रणधीर सिंह माजरी व करनैल सिंह आदि भी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!