जागरण संवाददाता, नंगल

सिद्ध बाबा बालक रूपी मंदिर गांव डुकली में आयोजित भागवत कथा का धार्मिक कार्यक्रम बुधवार को चौथे दिन भी भक्तिमय वातावरण में जारी रहा। नौ फरवरी तक चलने वाले कार्यक्रम में भक्तजनों का अध्यात्मिक मार्गदर्शन करते हुए आचार्य सुनील वशिष्ट ने कहा कि भगवान हमेशा अपने भक्तों का हर वक्त ध्यान रखते हैं। इसलिए हमें प्रभु के भक्त बनकर ही जीवन यापन करना चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि हम संस्कारों के अनुरूप ही जीवन में विचरण करते हुए अच्छे काम करें। इस अवसर पर स्वामी हिमंता दास ने भी कार्यक्रम का मकसद बताते हुए कहा कि प्रयास किया जा रहा है कि सभी को धर्म मार्ग से जोड़ा जा सके। कार्यक्रम में विशेष रूप से उपस्थित हुए स्वामी नारायण पुरी ने जीवन में सभी को कर्म करते रहने तथा धर्म मार्ग पर चल कर मानवता की सेवा करने की प्रेरणा दी। उन्होंने बताया कि जीवन में मेहनत व कर्म करने वालों पर ही प्रभु की कृपा होती है। कार्यक्रम में स्वामी राजेश पुरी महाराज, समाज सेवक विजय धीर, किरन धीर, योगाचार्य आरएस राणा, राकेश मेहता, सतपाल राणा, आशा रानी, शुभम धीर, ऊषा रानी, सुनीता रानी, कमलजीत कौर, रमेश रानी, जंग बहादुर, रोशन लाल, गुरदास राम, जसविंदर सिंह, अमरीक सिंह, हेमंत जसवाल, हरीश राणा, अनिल राणा, राधा, संतोष रानी, अशोक कुमार व सुरिदरा कुमारी सहित पं. राजेश शर्मा व ललित शर्मा ने भी शामिल होकर लोक कल्याण की कामना की

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!