जागरण संवाददाता, नंगल

पंजाब सरकार के विभिन्न विभागों से रिटायर हुए कर्मचारियों के संगठन पंजाब पेंशनर्स यूनियन ने बैठक करके संघर्ष का एलान कर दिया है। यूनियन की प्रातीय कमेटी के सदस्य मुकंद लाल ने कहा कि पेंशनर्स की मुश्किलों का समाधान किए जाने को लेकर की गई बैठक में मौजूद यूनियन के सेवा सिंह, जमीत सिंह, तरसेम लाल, महेंद्र सिंह, चरण सिंह, रणजीत सिंह आदि ने फैसला लिया है कि जल्द उनका संगठन संघर्ष शुरू करेगा। 22 जून को प्रातीय कमेटी कैबिनेट मंत्री ब्रह्म महिंद्रा के निवास समक्ष रोष धरना देकर माग पत्र सौंपेंगी। इसके बाद 25 जून को खरड़ में चरणजीत सिंह चन्नी को माग पत्र दिया जाएगा। 29 जून को मनप्रीत बादल के बठिंडा निवास पर पहुंचकर रोष प्रदर्शन किया जाएगा। दो जुलाई को श्रम मंत्री बलवीर सिंह सिद्धू को भी ज्ञापन सौंप कर प्रदर्शन किया जाएगा। इसके बाद 17 जुलाई को मुख्यमंत्री के शहर पटियाला में बड़ी संख्या में एकत्र होकर सभी रिटायर कर्मचारी रोष प्रदर्शन करेंगे। बैठक में माग उठाई गई कि ठेके पर की जा रही भर्ती तथा आउटसोर्सिंग को बंद करके कर्मचारियों की पक्की भर्ती की जाए। पुरानी पेंशन स्कीम लागू करना, मेडिकल बिलों का जल्द भुगतान करना, आशा वर्कर, मिड डे मील वर्कर, आगनवाड़ी वर्करों को दर्जा चार कर्मचारियों की श्रेणी में लाना, न्यूनतम वेतन कानून लागू करना आदि मागों को पूरा करवाने के लिए एकजुटता से संघर्ष जारी रखा जाएगा। बैठक में रोशन लाल, जसवीर सिंह, मिक्का सिंह, महंगा सिंह, नसीब सिंह, मलकीत सिंह, लखबीर सिद्धू, वेदव्यास, तीर्थ सिंह, करनैल सिंह आदि भी मौजूद थे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran