सुभाष शर्मा, नंगल

पिछले दो दिन से पड़ रही गर्मी के चलते 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच चुके अधिकतम तापमान से प्रभावित जनजीवन को बुधवार सायं हुई तेज बारिश ने राहत तो दिला दी है ,पर किसानों की चिंता भी बढ़ गई है। बारिश पड़ते ही तापमान कम होकर 30 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। बारिश के कारण शहर में बीबीएमबी व महकमा पावरकॉम की विद्युत आपूर्ति ठप रही। तेज अंधेरी व ओलावृष्टि के साथ हुई बारिश के कारण शहर में नंगल-भाखड़ा मार्ग के रास्ते आते पुलों पर पानी जमा हो जाने से आवागमन प्रभावित हो गया है। उधर अनाज मंडी में पहुंच चुकी गेहूं की फसल अनिवार्य प्रबंधों की कमी के चलते भीग गई है। सायं 6.30 बजे किसान अपनी फसल को बचाने के लिए तिरपालों से ढकने में लगे हुए थे, वहीं ट्रकों में लोड की गई फसल को बचाने के लिए भी प्रयास किए जा रहे थे। बुधवार दोपहर मंडी में प्रबंधों का दौरा करने के समय नायब तहसीलदार दलीप सिंह ने बताया कि अब तक 954 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद मंडी में की जा चुकी है। ग्रामीण इलाके में खेतों में तैयार खड़ी फसलों की कटाई में लगे किसानों की चिंता भी बारिश ने बढ़ा दी है। खराब हो चुके मौसम से घबराए किसानों को यह चिंता सता रही है कि यदि दो-चार दिन में बारिश के साथ अंधेरी आती है तो फसलों को काफी नुकसान पहुंच सकता है।

Posted By: Jagran